Haryana News

Adipurush की रिलीज के साथ ट्रेंड हुआ 'छपरी' शब्द, 90% लोगों को नहीं पता सही मतलब

 | 
Adipurush की रिलीज के साथ ट्रेंड हुआ 'छपरी' शब्द, 90% लोगों को नहीं पता सही मतलब

Adipurush Social Media Trend: लंबे इंतजार के बाद 16 मई को ओम राउत की डायरेक्ट की हुई फिल्म ‘आदिपुरुष’ देशभर के अलग-अलग थियेटर्स में रिलीज हुई. पहले शो के बाद से ही ओम राउत और उनकी टीम को दर्शकों के गुस्से का सामना करना पड़ा. इसके साथ ही सोशल मीडिया ट्रोलर्स ने भी अपना काम शुरू कर दिया. फिल्म की जमकर ट्रोलिंग हुई और लंबे समय तक सोशल मीडिया पर 'छपरी' शब्द ट्रेंड करता रहा लेकिन जब इस शब्द का मतलब पूछा गया, तब 90 फीसदी लोगों को इसकी सही जानकारी नहीं थी. अब जान लीजिए छपरी शब्द को सही अर्थ क्या है?

क्या छपरी शब्द का मतलब?
जब गूगल पर इस शब्द को सर्च किया गया तो इसका मतलब जानने के लिए गूगल ने सीधे अर्बन डिक्शनरी की तरफ रुख किया. जहां छपरी का मतलब एक गैर-जिम्मेदार व्यक्ति बताया है. यानी एक ऐसा इंसान जो ट्रेंडी लुक के साथ अलग दिखाई देता है. उसका पहनावा और उसे दूसरों से अलग बनाता है और सोशल मीडिया पर उसका काम दूसरे लोगों को अपनी ओर खींचना होता है या इसे टाइम बर्बाद की तरह भी देख सकते हैं. वहीं जब समाज की बात होती है तब इनका कोई खास योगदान नजर नहीं आता है. जब से आदिपुरुष रिलीज हुई है तब से 'छपरी' शब्द ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है. कोई फिल्म में रावण के लुक से नाखुश है तो कोई फिल्म के डॉयलॉग से गुस्सा है.

क्या है फिल्म में अलग?
आदिपुरुष करीब 600 करोड़ रुपये में बनी मल्टीस्टारर फिल्म है जिसे शुक्रवार को रिलीज किया गया. इसके बाद फिल्म की खूब धज्जियां उड़ी. दर्शकों की शिकायत थी कि फिल्म में सोने की लंका को काले रंग का दिखाया गया. वहीं सैफ अली खान का हेयरकट भी लोगों को पसंद नहीं आया. मनोज मुंतशिर शुल्का का लिखा हुआ संवाद भी जमकर ट्रोल हुआ. इन्हीं संवादों को लोग छपरी बोल रहे हैं. कई दर्शकों ने कहा कि जो उम्मीद हमने फिल्म से की वो हमें नहीं मिली है.