Haryana News

गर्लफ्रेंड से चुपके से मिलने गया बॉयफ्रेंड, गांव वालों ने देखा तो पकड़कर जबरन करा दी शादी

 | 
गर्लफ्रेंड से चुपके से मिलने गया बॉयफ्रेंड, गांव वालों ने देखा तो पकड़कर जबरन करा दी शादी

Viral News: बेगूसराय में शादीशुदा प्रेमिका से मिलने गए एक युवक को ग्रामीणों ने पकड़ कर मंदिर में जबरन शादी करा दिया. अब इस जबरन शादी का वीडियो वायरल हो रहा है. ग्रामीणों की भीड़ के बीच युवक को जबरन युवती से शादी कराया गया. लड़का बार-बार अपना चेहरा ढकने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीणों के दबाव के बीच उसने युवती के मांग में सिंदूर डाला. वहीं, जयमाला कर शादी भी कराई गई. मामला खोदावंदपुर थाना क्षेत्र के बरियारपुर पूर्वी गांव का है.

लड़की से मिलने आया था बॉयफ्रेंड

बताया जा रहा है कि छह महीने के अंदर लड़की की यह तीसरी शादी है जो अब इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है. मिली जानकारी के अनुसार, फिर से दुल्हन बनी युवती आरती कुमारी मात्र 20 वर्ष की है. बेगूसराय मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के मुबारकपुर गांव निवासी उमेश महतो की पुत्री की पहली शादी पिछले छह माह पहले हुई थी. इस युवती की पहली शादी वीरपुर थाना क्षेत्र के टांरी गांव में हुई थी. इस शादी के आयोजन में बरियारपुर पूर्वी पंचायत के वार्ड पांच निवासी अशर्फी महतो के 24 वर्षीय पुत्र सिंटू  कुमार ने अगुआ की भूमिका निभाई थी.

लड़की पहले भी कर चुकी है दूसरी शादी

इस युवती के मायके से पूर्व से रिश्तेदारी होने का फायदा उठाते हुए सिंटू कुमार ने शादीशुदा इस युवती का दूसरा विवाह कुछ दिनों बाद ही अपने गांव के नीतीश कुमार से करवा दिया. इस मामले में युवती के पिता ने मुफ्फसिल थाना में सिंटू समेत अन्य लोगों के विरुद्ध बहला फुसलाकर भगा ले जाने का मामला भी दर्ज करवाया था. वहीं दूसरी ओर युवती की दूसरी शादी के बाद सिंटू का आना-जाना नीतीश के घर होने लगा. नीतीश की पत्नी आरती के साथ सिंटू का प्रेम-प्रसंग बढ़ता गया. गत तीन दिनों पूर्व ही महिला की दूसरा पति नीतीश मजदूरी करने के लिये घर से दिल्ली के लिये निकला था.

गांव के लोगों ने पकड़कर दोनों की कराई शादी

इसी बीच रविवार की देर रात्रि आरती से मिलने उसके घर पहुंचे सिंटू को ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ लिया. फिर आरती और सिंटू की शादी गांव के शिव मंदिर परिसर में सोमवार की सुबह गांव वालों ने जबरन करवा दी. छह महीने के अंदर आरती की तीसरी शादी की घटना की चर्चा क्षेत्र के चौक-चौराहों पर जोर शोर से की जा रही है.