Haryana News

Jija Saali Wedding: साली ने की जिद तो दूल्हे ने दुल्हन को छोड़ उसके साथ लिए सात फेरे, ससुराल वाले भी हुए राजी

 | 
Jija Saali Wedding: साली ने की जिद तो दूल्हे ने दुल्हन को छोड़ उसके साथ लिए सात फेरे, ससुराल वाले भी हुए राजी

Jija Saali Marriage: कन्या निरीक्षण के पश्चात बड़ी बहन के साथ शादी से इनकार करने के बाद बाराती और घरातियों के बीच जमकर गुत्थम गुत्थी हुई और बाद में भारी संख्या में पहुंची पुलिस की निगरानी में चट-मंगनी, पट-ब्याह की तर्ज पर पंचायत ने छोटी बहन के साथ दूल्हे राजा का सिंदूर दान करा बारातियों को सकुशल विदा कर दिया. यह घटना मांझी थाना क्षेत्र के भभौली गांव की है. बताते चलें कि बीते मंगलवार की शाम छपरा शहर के बिनटोली निवासी जगमोहन महतो के पुत्र राजेश कुमार की बारात ससमय भभौली गांव पहुंची. दुल्हन रिंकू कुमारी के पिता रामु बिन ने अपने दरवाजे पर अपनी श्रद्धा व क्षमता के अनुसार बारातियों की खूब आवभगत की.

आंगन में कन्या निरीक्षण के वक्त शुरू हुई घटना
बैंड बाजे के साथ हंसी खुशी द्वार-पूजा की रस्म पूरी हुई. सैकड़ों लोगों की मौजूदगी में जयमाला की प्रक्रिया पूरी की गई. रात के लगभग 11 बजे आंगन में कन्या निरीक्षण का दौर चल ही रहा था कि दुल्हन की छोटी बहन पुतुल कुमारी चुपके से छत पर चढ़ गई और छत से ही दूल्हे राजा को मोबाइल से फोन करके धमकी दी कि यदि आप मेरे साथ शादी नही करेंगे तो मैं छत से कूदकर अपनी जान दे दूंगी. मौके की नजाकत को देखते हुए दूल्हे राजा ने आन- फानन में कन्या निरीक्षण से अपने परिजनों व रिश्तेदारों को जनवासे में वापस बुला लिया. इस दौरान जनवासे में दोनों पक्ष के लोग आर्केस्ट्रा देखने में मशगूल थे.

घरातियों ने दूल्हे और बारातियों को बंधक बनाकर पीटा
बारातियों की अजीबोगरीब हरकत देखकर अचानक जनवासे में पहुंचे घरातियों की बारातियों के साथ कहा सुनी होने लगी. बात मारपीट तक जा पहुंची और दोनों पक्ष के लोग आपस में गुत्थम गुत्थी करने लगे और वहां भगदड़ मच गई. आर्केस्ट्रा वाले अपना साज बाज समेट कर दुबक गए. इस दरम्यान कुछ लोगों के बीच बचाव से मारपीट पर विराम लग गया. इसी बीच घरातियों ने दूल्हे राजा समेत रिश्तेदारों को आंगन में बंधक बनाकर लात घूसों से जमकर पीटा. अफरा-तफरी में भागे बारातियों ने किसी तरह घटना की सूचना मांझी थाना पुलिस को दी. इस बीच सूचना पाकर मुबारकपुर में छापेमारी करने गईं पुलिस लाइन की टीम को लेकर मांझी थाना पुलिस की टीम आ धमकी.

दुल्हन की छोटी बहन से शादी करके लौटा दूल्हा
हालात की जानकारी लेने के बाद सुबह के चार बजे पुलिस ने स्थानीय मुखियापति शैलेश्वर मिश्रा को मौके पर बुलाया और इस मामले में पहल करने का अनुरोध किया. पुलिस व परिजनों के आग्रह पर शैलेश्वर मिश्रा के अलावा बसपा नेता लक्ष्मण मांझी और मंजीत कुमार सिंह ने दोनों पक्ष के परिजनों व दूल्हे राजा से बात की. बाद में दोनों पक्षों के अलावा दुल्हन ने भी अपनी छोटी बहन पुतुल कुमारी के साथ दूल्हा राजेश कुमार को शादी करने की हामी भर दी. पंचायती के बाद रस्म अदायगी के लिए पुरोहित की खोजबीन शुरू शुरू हुई तब पता चला कि मारपीट के बाद से दोनों पक्ष के पुरोहित लापता हो गए है. फिर क्या था लोगों की सलाह पर ब्राम्हण मुखियापति ने सिंदूर दान की रस्म अदायगी कराकर बारातियों को सकुशल विदा करा दिया.