Haryana News

होली पर्व पर मेले का आयोजन:ढींगसरा में बाबा मनसागर धाम पर श्रद्धालुओ ने टेका माथा, मन्नतें मांगीं

 | 
होली पर्व पर मेले का आयोजन:ढींगसरा में बाबा मनसागर धाम पर श्रद्धालुओ ने टेका माथा, मन्नतें मांगीं
फतेहाबाद/भट्टूकलां।

गांव ढींगसरा के बाबा मनसागर मंदिर में होली पर्व पर मेले का आयोजन किया गया। मेले में हजारों श्रद्धालुओं ने बाबा मनसागर मंदिर में पूजा अर्चना कर मन्नतें मांगी। मेले में विभिन्न प्रकार की दुकानें व स्टाले मुख्य आकर्षण का केंद्र बनी रही। खिलौनों की दुकानों, मिठाइयों, खाने पीने व मनिहारी की दुकानों पर काफी भीड़ लगी रही। लोगों ने मेले में खूब खरीदारी की। वहीं बच्चों ने झूलों का आंनद लिया। मेले में भंडारे का आयोजन भी किया गया था। सुरक्षा के लिए पुलिस ने पूरे प्रबंधन कर रखे थे।


फतेहाबाद/भट्टूकलां।
होली पर्व के उपलक्ष्य में फतेहाबाद के गांव ढिंगसरा में स्थित बाबा मनसागर धाम में भव्य मेले का आयोजन किया गया। जिसमें हरियाणा व पंजाब से सैंकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया और मन्नतें मांगीं। धाम में 80 हजार श्रद्धालुओं ने मत्था टेका। 

गांव ढिंगसरा में बाबा मनसागर धाम मेले में सुबह से ही लोगों की भीड़ उमड़ने लगी थी। मेले में श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की दिक्कत ना आए इसके लिए मंदिर कमेटी की ओर से विशेष प्रबंध किए गये थे। किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए भारी पुलिस फोर्स जमा थी। ट्रैफिक संचालन के लिए स्पेशल ट्रैफिक पुलिस लगाई गई थी। इस मेले में हरियाणा व पंजाब से आए श्रद्धालुओं ने मनसागर धाम में मत्था टेका व मन्नतें मांगी। गांव ढिंगसरा के ग्रामीणों के अनुसार करीब 250 वर्ष पूर्व एक साधू मनसागर गिरी जी ने यहां पर अपनी कुटिया बनाई थी। उनके आशीर्वाद से यहां के राजा नाहर सिंह को पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई और बाद में यहां पर भव्य मंदिर का निर्माण करवा दिया। साधू मनसागर जी लोगों के चरम रोगों का ईलाज भी करते थे। उनके समाधि लेने के बाद यहां पर हर साल होली व दीपावली पर भव्य मेले का आयोजन किया जाने लगा। इस दौरान गुरूद्वारे में अखण्ड़ पाठ का भोग डाला गया व अटूट लंगर चलाया गया। हजारों की संख्या में उमड़े श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर में स्नान किया व मन्नतें मांगी।