Haryana News

Elvish Yadav : एल्विश यादव ने मोबाइल फोन से अहम डेटा डिलीट किया, कोबरा कांड में नया खुलासा

 | 
Elvish Yadav : एल्विश यादव ने मोबाइल फोन से अहम डेटा डिलीट किया, कोबरा कांड में नया खुलासा

कोबरा कांड में फंसे यूट्यूबर एल्विश यादव की मुश्किलें अभी कम होती नहीं दिख रही हैं। नोएडा पुलिस ने अब एल्विश और उसके साथी विनय और ईश्वर के मोबाइल फोन को गाजियाबाद के निवाणी स्थित फोरेंसिक साइंस लैब में भेजा है। तीनों ने मोबाइल फोन से कुछ ऐसे डेटा डिलीट किए गए हैं, जो इस मामले में काफी अहम हैं। उन्होंने चैट के अलावा कई तस्वीरें और वीडियो भी डिलीट किए हैं। एल्विश यादव पर रेव पार्टी करने और उसमें सांपों का जहर पहुंचाने का आरोप है। माना जा रहा है कि फोन का डेटा रिकवर होते ही एल्विश समेत सभी आरोपियों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

पीपुल्स फॉर एनिमल (पीएफए) संस्था के पदाधिकारी ने बीते साल एल्विश यादव और उसके साथियों पर सांपों के जहर का इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए सेक्टर-49 थाने में केस दर्ज कराया था। संस्था के सदस्य ने एक स्टिंग ऑपरेशन किया था। इसमें नौ सांप और 20 एमएल सांपों का जहर पांच सपेरों के पास मिला था। सभी को जेल भेज दिया गया।

पीएफए के पदाधिकारी का एक ऑडियो इसके बाद वायरल हुआ, जिसमें मुख्य आरोपी राहुल संस्था के पदाधिकारी से बात कर रहा है। इसमें राहुल यह कह रहा है कि वह एल्विश की ओर से आयोजित होने वाली पार्टियों में शामिल हो चुका है। राहुल पार्टियों में अपने अन्य सपेरे दोस्तों के साथ गया था। हालांकि, बाद में सभी को जमानत मिल गई। पुलिस ने पर्याप्त सबूत मिलने के बाद मार्च में एल्विश यादव को नोटिस देकर पूछताछ के लिए दोबारा बुलाया। पूछताछ के बाद उसे नोएडा से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। वह 5 दिन तक जेल में रहा। हालांकि, होली के पहले उसे जमानत मिल गई। एल्विश की गिरफ्तारी के बाद नोएडा पुलिस ने उसके साथी विनय और ईश्वर को भी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया था। दोनों को बाद में जमानत मिल गई थी।

चार्जशीट दाखिल हो चुकी : चार्जशीट में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि ईश्वर के गांव में एक पार्टी हुई थी, जिसमें विनय और 5 सपेरों के अलावा एल्विश भी आया था। सभी की मोबाइल लोकेशन उस समय ईश्वर के गांव की मिली है। ईश्वर के गांव में एल्विश के कई रिश्तेदार भी रहते हैं। अटकलें हैं कि एल्विश वर्चुअल नंबर के लिए जिस आईपी एड्रेस का प्रयोग करता था, वह चीन का था। हालांकि, इस पर पुलिस ने कुछ भी बोलने से इनकार किया है। एल्विश को जब पार्टी आयोजित करनी होती थी और उसे सांपों और जहर की आवश्यकता होती थी तो वह अपने साथी विनय को वर्चुअल नंबर से कॉल करता था।

रेव पार्टी और सांपों से जुड़े कई राज होने की संभावना
रेव पार्टी आयोजित करने और उसमें सांपों का जहर सप्लाई करने के मामले में यूट्यूबर एल्विश यादव समेत आठ आरोपियों के खिलाफ नोएडा पुलिस की ओर से चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है। पुलिस ने यूट्यूबर एल्विश यादव, उसके साथी विनय और ईश्वर के मोबाइल को फोरेंसिक लैब में भेजा है। आरोपियों के मोबाइल में सांपों की तस्करी और रेव पार्टी के कई राज दफन हैं। डाटा रिकवर होने की रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस उसका अध्ययन करेगी। इसके बाद रिपोर्ट न्यायालय में पेश की जाएगी।

चार्जशीट में सपेरों से संपर्क की जानकारी
ईश्वर के बैंक्वेट हॉल में सांपों का जहर निकालने का जिक्र भी नोएडा पुलिस ने आरोप पत्र में किया है। आरोपपत्र में 24 गवाहों के बयान नत्थी किए गए हैं। चार्जशीट में नोएडा पुलिस की ओर से बताया गया है कि एल्विश का जहरीले खेल में जेल भेजे गए सपेरों से संपर्क था। एल्विश के खिलाफ लगी एनडीपीएस की धाराओं का आधार भी पुलिस ने इसमें बताया है।