Haryana News

CUET UG 2024:आवेदन प्रक्रिया के दौरान ये ना करें ये 5 गलतियां, वरना हो जाएगा साल बर्बाद

 | 
CUET UG 2024:आवेदन प्रक्रिया के दौरान ये ना करें ये 5 गलतियां, वरना हो जाएगा साल बर्बाद

CUET UG 2024 Registration: कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट अंडरग्रेजुएट (CUET UG) के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म को सही ढंग से भरना उच्च शिक्षा प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है. रजिस्ट्रेशन प्रोसेस में सामान्य गलतियों से बचना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह परीक्षा दिल्ली विश्वविद्यालय, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, जामिया मिल्ला इस्लामिया, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय सहित भारत भर के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों के लिए प्रवेश द्वार है. इसलिए यहां हमने उन 5 सामान्य गलतियों का बारे में बताया है, जिन्हें अक्सर छात्र करते हैं और करने के बाद पछताते हैं. ऐसे में छात्रों को सलाह दी जाती है कि वह इन गलतियों के बारे में जानें और इस साल होने वाले रजिस्ट्रेशन के दौरान उन्हें करने से बचें.

1. गलत पर्सनल डिटेल: छात्रों द्वारा की जाने वाली सबसे अधिक गलतियों में से एक सीयूईटी एप्लिकेशन फॉर्म में गलत पर्सनल डिटेल भरना है. इसमें गलत स्पेलिंग वाले नाम, गलत डेट ऑफ बर्थ, या गलत पता या कॉन्टेक्ट डिटेल प्रदान करना शामिल है. ऐसी गलतियों के कारण डॉक्यूमेंटेशन में विसंगतियां, कम्युनिकेशन इशू या यहां तक कि परीक्षा से अयोग्यता हो सकती है. इसलिए, सबमिट बटन दबाने से पहले हमेशा अपने सभी इनपुट दोबारा जांच लें.

2. इनकंप्लीट डॉक्यूमेंटेशन: एक और गलती जो अक्सर उम्मीदवार करते हैं, वह है रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर आईडी प्रूफ, शैक्षणिक प्रमाण पत्र और हाल की तस्वीरें जैसे गलत डॉक्यूमेंट्स अपलोड करना. इसके अलावा, उम्मीदवारों को आवेदन करने से पहले, वह जिस पाठ्यक्रमों और विश्वविद्यालयों में एडमिशन लेना चाहते हैं, उसके एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए. इसलिए, डॉक्यूमेंट जमा करने के संबंध में एनटीए पोर्टल पर उल्लिखित निर्देशों का सावधानीपूर्वक पालन करना आवश्यक है, क्योंकि स्पेसिफिक फॉर्मेट में इन डॉक्यूमेंट को प्रदान करने में विफलता के कारण आपका आवेदन अस्वीकार हो सकता है.

3. कोर्स सेलेक्शन या कॉलेज प्रेफरेंस में क्लेरिटी की कमी: एक बार जब आप अपने डॉक्यूमेंट्स जमा कर देंगे, तो फॉर्म आपको विश्वविद्यालय और कोर्स स्पेसिफाई करने के लिए कहेगा. यहां, आपको अपने प्रोफेशनल गोल की स्पष्ट समझ के बिना कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए, अपनी पसंदीदा शैक्षणिक स्ट्रीम की पहचान करें, जो आपके भविष्य के करियर पाथ के साथ अलाइन हो और इसे ऑफर करने वाले कॉलेजों को शॉर्टलिस्ट करें. साथ ही, यह सलाह दी जाती है कि अपनी प्राथमिकता के अनुसार अधिक से अधिक कोर्स और कॉलेज को शामिल करें, हालांकि, अतिरिक्त पाठ्यक्रमों के लिए अतिरिक्त शुल्क लागू हो सकते हैं.

4. फॉर्म भरने के लिए लास्ट मिनट की प्रतीक्षा करना: आवेदन की आखिरी तारीख चूक जाना सीयूईटी रजिस्ट्रेशन में एक गंभीर गलती है, क्योंकि देर से आवेदन पर कभी विचार नहीं किया जाता है. उम्मीदवारों को इन समय-सीमाओं के बारे में पता होना चाहिए और उसके अनुसार अपनी आवेदन प्रक्रिया की योजना बनानी चाहिए. उम्मीदवारों को यह भी सलाह दी जाती है कि रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पहले से ही पूरी कर दी जाए क्योंकि आखिरी दिन वेबसाइट से संबंधित तकनीकी समस्याओं का सामना करने की अधिक संभावना होती है.

5. सबसे अहम टिप: सीयूईटी किसी भी गलती के मामले में एक एप्लिकेशन फॉर्म सुधार विंडो ओपन करता है, जिसे गलती को आपने अनदेखा कर दिया हो. हालांकि, सीयूईटी आवेदन में सुधार के दौरान, कुछ डिटेल्स को बदलने की अनुमति नहीं है, जैसे कि आवेदक का नाम, माता-पिता का नाम, डेट ऑफ बर्थ और कॉन्टेक्ट डिटेल. लेकिन परीक्षा केंद्र, कोर्स डिटेल, शैक्षिक योग्यता, अपलोड किए डॉक्यूमेंट्स जैसी विशेष डिटेस में आप बदलाव कर सकते हैं. इसलिए, पूरी तरह से आश्वस्त होने के लिए अपने आवेदन फॉर्म को दोबारा जांचने (यहां तक कि तीन बार जांचने) के अवसर की इस विंडो का लाभ जरूर उठाएं.