Haryana News

Cubs: बिल्ली का बच्चा समझकर घर ले आए, धोखा हो गया..वन विभाग की टीम समय पर पहुंच गई!

 | 
Cubs: बिल्ली का बच्चा समझकर घर ले आए, धोखा हो गया..वन विभाग की टीम समय पर पहुंच गई!

Newborn Leopard Baby: जंगल में जानवर और उनके बच्चों की भरमार होती है. कई बार बड़े से बड़े एक्सपर्ट भी उनकी पहचान नहीं कर पाते हैं. इसी कड़ी में और मामला सामने आया है जब हाल ही में हरियाणा के एक परिवार के साथ धोखा हो गया. हुआ यह कि वे जिसे बिल्ली का बच्चा समझकर लाए थे वे दरअसल में बिल्ली के बच्चे नहीं थे बल्कि तेंदुए के शावक थे. बाद में जब उनको पता चला तो वे भौचक्के रह गए. गनीमत इस बात की भी रही कि बहुत सही समय पर वन विभाग की टीम वहां पहुंच गई और दोनों शावकों का रेस्क्यू किया गया. बाद में दोनों की मां से भी उन्हें मिलाया गया.

दरअसल, यह घटना हरियाणा के नूह जिले की है. घटना गुरुवार की है जब चरवाहे का एक परिवार अपनी मवेशियां चराने के लिए ही पास के ही जंगल में गया हुआ था. जंगल से ही सटे कोटला गांव के पहाड़ में उनको तेंदुए के दो बच्चे दिखाई दिए तो उनको लगा कि ये बिल्ली के बच्चे हैं क्योंकि आसपास कोई और जानवर उस समय नहीं दिख रहा था. वे भूख-प्यास से सीख भी रहे थे. इतना ही नहीं उनके आसपास कुत्तों को भोंकता देख वह परिवार उन्हें बचाने के उद्देश्य से अपने साथ घर लेकर आ गया.

इधर गांव में उन दोनों को दूध पिलाया गया और आसपास के लोग इकट्ठे हो गए. तभी किसी ने कहा कि ये बिल्ली के बच्चे नहीं बल्कि तेंदुए के शावक हैं. इतना सुनते ही वहां हड़कंप मच गया और लोग मोबाइल में उनकी तस्वीरें और वीडियोज कैद करने लगे. तभी किसी की सूचना पर वन विभाग की टीम भी पहुंच गई. उनके साथ पुलिस की भी एक टीम थी. वन विभाग की टीम ने वहां पहुंचते ही तेंदुए के दोनों शावकों को कब्जे में ले लिया.

बताया गया कि दोनों शावकों में से एक नर जबकि दूसरा मादा है. दोनों का सफल रेस्क्यू करने के बाद वन विभाग के अधिकारी शावकों को वहीं ले गए, जहां से वो उन गांववालों को मिले थे. इसी बीच एक अन्य मीडिया रिपोर्ट में बताया गया कि अच्छी बात यह रही कि उन दोनों शावकों की मां तेंदुआ उस स्थान पर आई और कुछ ही देर में अपने दोनों बच्चे को साथ ले गई.