Haryana News

Bacardi: इस रम की बोतल पर चमगादड़ क्यों बना होता है? जान लीजिए इसके पीछे का राज!

 | 
Bacardi: इस रम की बोतल पर चमगादड़ क्यों बना होता है? जान लीजिए इसके पीछे का राज!

Rum Of Bacardi Brand: वैसे तो दुनियाभर में रम के कई ब्रांड लोगों के बीच काफी चर्चित हैं लेकिन बकार्डी रम पीने वाले सबसे ज्यादा इसे ही पसंद करते हैं. यह बहुत पुरानी रम है. बकार्डी रम की एक और चीज लोगों के बीच काफी चर्चा में रहती है. वह है इसका लोगो, इसके लोगो में चमगादड़ का निशान बना रहता है. क्या आप जानते हैं बकार्डी रम की बोतल पर चमगादड़ क्यों बना रहता है? नहीं जानते हैं तो आइए जान लेते हैं.

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बकार्डी रम की बोतल पर चमगादड़ का लोगो ऐतिहासिक है. और यह लोगो शुरू से ही बना हुआ है. बताया जाता है कि बकार्डी रम कंपनी की स्थापना 1862 में Facundo Bacardi ने की थी. इसकी पहली डिस्टिलरी को क्यूबा में स्थापित किया गया था. इसकी स्थापना के समय ही कुछ ऐसा हुआ कि उसी  में चमगादड़ का प्रयोग होने लगा. असल में इसके लिए जो जगह ली गई थी, वहां कई चमगादड़ रहते थे. उस दौरान छत पर ढेर सारे चमगादड़ बैठे हुए थे लेकिन वहां से किसी चमगादड़ को नहीं भगाया गया बल्कि इस रम के निशान में उन्हीं चमगादड़ का यूज कर लिया गया.

बोतल पर चमगादड़ की तस्वीर 

इसके अलावा और भी कई तर्क दिए गए. बताया गया कि चमगादड़ अच्छी सेहत और परिवार में एकता लेकर आते हैं. अच्छी किस्मत के लिए बकार्डी की बोतल पर चमगादड़ की तस्वीर लगाई थी. इसके अलावा चमगादड़ को रम उद्योग का स्वाभाविक दोस्त कहा जाता है, क्योंकि वे गन्ने की फसलों को परागण करते हैं और उन कीटों का शिकार करते हैं जो उन्हें नुकसान पहुंचाते हैं. 


इन्हीं कुछ वजहों के चलते इसे इस रम का लोगो बना दिया गया और तभी से यानी कि 160 साल से अभी तक यही लोगो चला आ रहा है. बता दें कि बकार्डी रम की स्थापना साल 1862 में की गई थी. फकूंडो बकार्डी द्वारा क्यूबा में इसकी पहली डिस्टिलरी को स्थापित किया था. बकार्डी रम की बोतल पर चमगादड़ इसका प्रतीक बन चुका है और इसे ब्रांड की चिह्निता या लोगो के रूप में पहचाना जाता है.