Haryana News

SDM ज्योति मौर्या और उनके पति आलोक मौर्या के चलते विवाद के कारण 135 पत्नियों को छोडनी पड़ी PCS की कोचिंग, क्या है सच्चाई

 | 
SDM ज्योति मौर्या और उनके पति आलोक मौर्या के चलते विवाद के कारण 135 पत्नियों को छोडनी पड़ी PCS की कोचिंग, क्या है सच्चाई

पीसीएस ज्योति और आलोक के संबंधों का साइड इफेक्ट बताते हुए एक खबर तेजी से वायरल हो रही है। इस खबर में बताया जा रहा है कि 135 पतियों ने आईएएस की तैयारी कर रही पत्नियों को वापस बुला लिया गया है।

यूपी ही नहीं पूरे देश में आजकल पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्या और उनके पति आलोक मौर्या चर्चा में हैं। ज्योति और आलोक के संबंधों का साइड इफेक्ट बताते हुए एक खबर तेजी से वायरल हो रही है। इस खबर में बताया जा रहा है कि ज्योति मौर्या से सीख लेते हुए 135 पतियों ने आईएएस की तैयारी कर रही अपनी पत्नियों को वापस बुला लिया है। वायरल खबर के दावे की पुष्टि के लिए प्रयागराज में आईएएस की तैयारी कर रही कई शादीशुदा युवतियों से बात की गई। सभी युवतियों ने इस खबर को सिरे से खारिज कर दिया। 


शादी के बाद आईएएस की तैयारी कर रही एक युवती ने कहा कि हम लोगों के सामने ऐसा मामला अभी तक नहीं आया जिसमें किसी पति ने अपनी पत्नी को वापस बुला लिया हो। मेरे पति भी खुलकर मेरा सपोर्ट कर रहे हैं। उन्हें मुझ पर भरोसा है तभी तो कोचिंग करा रहे हैं। 

एक अन्य युवती ने कहा कि वायरल खबर में कोई सत्यता नजर नहीं आती है। ज्योति और उनके पति को आपस में घर में मामला सुलझाना चाहिए। यहां तो कोई ऐसा मामला नहीं दिखा जिसमें पति ने अपनी पत्नी को वापस बुला लिया हो। कोचिंग में मेरे साथ भी कई शादीशुदा लड़किया तैयारी कर रही हैं। उनके पतियों को भी किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं है। 


एक युवती ने कहा कि आज सोशल मीडिया का जमाना है। नकारात्मक चीजों को ज्यादा वायरल किया जा रहा है। यूट्यूब वाले अपने चैनलों को ज्यादा लोकप्रिय बनाने के लिए किसी भी खबर में मसाला लगाकर चलाते हैं। वायरल खबर में कोई सच्चाई नहीं है। वायरल खबर में कोई सच्चाई नहीं है। यहां तो कोई विवाहित महिला को उसके पति ने वापस नहीं बुलाया है। हमारे आसपास ऐसी कई लड़कियां है जिनको पतियों ने ही आईएएस बनाया है। पत्नी को तैयारी करने से रोकने की बातें बिल्कुल गलत हैं। 

क्या है पूरा मामला
बरेली में तैनात सीनियर महिला पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्य पर उनके पति आनंद मौर्य ने बेवफाई का आरोप लगाया है। प्रतापगढ़ जिले में पंचायत राज विभाग में चतुर्थ श्रेणी पद पर कार्यरत आलोक ने आरोप लगाया कि उनकी एसडीएम पत्नी का पीएएसी के कमांडेंट से प्रेम संबंध चल रहा है। पत्नी से जान का खतरा होने का भी आरोप लगाया। आलोक मौर्या ने धूमनगंज थाने में पत्नी और उसके प्रेमी के खिलाफ तहरीर दी है। 


एसडीएम पत्नी और उसके होमगार्ड कमांडेंट प्रेमी के खिलाफ भी विभागीय स्तर पर कार्रवाई के लिए होमगार्ड मुख्यालय में शिकायत भी की है। आलोक ने अपनी पत्नी और उसके प्रेमी के बीच व्हाट्सएप चैट भी पुलिस को शिकायत के साथ दी है।

आलोक मौर्य की शादी वर्ष 2010 में वाराणसी के चिरईगांव की रहने वाली ज्योति मौर्या के साथ हुई थी। शादी के समय आलोक पंचायत राज विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर कार्यरत थे। इन दिनों उसकी तैनाती प्रतापगढ़ जिले में है, जबकि पत्नी ज्योति मौर्या ने उससे पढ़ने की इच्छा जताई।

इस पर आलोक अपनी पत्नी को लेकर प्रयागराज आ गया और यहां पर उसने सिविल की तैयारी के लिए कोचिंग कराई। 2016 में यूपी लोक सेवा आयोग की पीसीएस परीक्षा 2015 में ज्योति मौर्या का 16 वें नंबर पर एसडीएम पद पर चयन हुआ। ज्योति मौर्या की तैनाती प्रयागराज जिले में भी रह चुकी है, लेकिन मौजूदा समय में वह बरेली जिले में चीनी मिल में जीएम के पद पर कार्यरत हैं। हालांकि इसके पहले ज्योति मौर्या की तैनाती कौशांबी, प्रतापगढ़, जौनपुर और लखनऊ जिलों में भी रही है।