Haryana News

अपने देश के लिए मचाता है तबाही, IPL 2024 में सूंघ गया सांप; खतरनाक बल्लेबाज पर उठे सवाल

 | 
अपने देश के लिए मचाता है तबाही, IPL 2024 में सूंघ गया सांप; खतरनाक बल्लेबाज पर उठे सवाल

IPL 2024: आईपीएल टीमें नीलामी के जरिए विदेशी स्टार खिलाड़ियों को भारी भरकम रकम में इसलिए खरीदती हैं, ताकि वे उनके लिए टूर्नामेंट में अच्छा खेलकर बेहतर नतीजे दे सकें. हालांकि कुछ विदेशी खिलाड़ी ऐसे हैं जो अपने देश के लिए क्रिकेट के मैदान पर तो तबाही मचाते हैं, लेकिन IPL में आकर उनकी फॉर्म में गिरावट आ जाती है. इंटरनेशनल क्रिकेट का एक बेहद खतरनाक बल्लेबाज IPL 2024 में लगातार फ्लॉप हो रहा है.  

अपने देश के लिए मचाता है तबाही
ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल धुंआधार बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. मैक्सवेल ने अब तक ऑस्ट्रेलिया के लिए 106 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 155.51 की स्ट्राइक रेट और 30.09 की औसत के साथ 2468 रन बनाए हैं. ग्लेन मैक्सवेल ने ऑस्ट्रेलिया के लिए टी20 इंटरनेशनल फॉर्मेट में 5 शतक लगाए हैं. ODI में ग्लेन मैक्सवेल ने 138 मैचों में 3895 रन बनाए हैं. ग्लेन मैक्सवेल ने ODI में 1 दोहरा शतक, 4 शतक और 23 अर्धशतक जमाए हैं. ग्लेन मैक्सवेल इंटरनेशनल क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के लिए बेहतरीन खेलते हैं.

इंटरनेशनल क्रिकेट के खतरनाक बल्लेबाज पर उठे सवाल  
इंटरनेशनल क्रिकेट में शानदार खेलने वाले ग्लेन मैक्सवेल IPL 2024 में बुरी तरह नाकाम साबित हुए हैं. ग्लेन मैक्सवेल की बात करें तो वह IPL 2024 में बेहद खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं. ग्लेन मैक्सवेल ने अभी तक IPL 2024 में 5 मैच खेले हैं और केवल 32 रन ही जोड़े हैं. ग्लेन मैक्सवेल ने इन 5 IPL मैचों में 0, 3, 28, 0, 1 रन के स्कोर बनाए हैं. ग्लेन मैक्सवेल के अगर हम अंतरराष्ट्रीय टी20 करियर से आईपीएल करियर की तुलना करेंगे, तो देखेंगे कि वो अंतरराष्ट्रीय टी20 में 30.09 की औसत के साथ बल्लेबाजी करते हैं. वहीं, आईपीएल में उनका औसत घटकर 25.47 पर आ जाता है.

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ भी नहीं चले मैक्सवेल 
राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शनिवार को खेले गए IPL मैच में ग्लेन मैक्सवेल से एक शानदार आक्रामक पारी की उम्मीद थी, लेकिन वह सिर्फ एक रन बनाकर आउट हो गए. विराट कोहली के शतक के बावजूद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) को 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा है. ग्लेन मैक्सवेल अगर विराट कोहली का साथ देते हुए ताबड़तोड़ पारी खेलते तो मैच का नतीजा कुछ और भी हो सकता था.