Haryana News

लीवर साफ करने में गन्ने का जूस करेगा मदद, इस तरह पीना होगा फायदेमंद

 | 
लीवर साफ करने में गन्ने का जूस करेगा मदद, इस तरह पीना होगा फायदेमंद

तपती गर्मी हर किसी को बेहाल कर रही है। ऐसे में लिक्विड चीजों को पीना बॉडी को तरावट देता है और शरीर हाइड्रेटेड बना रहता है। गन्ने का जूस गर्मी के मौसम की बेस्ट ड्रिंक है। इसे पीने से ना केवल शरीर को ठंडक मिलती है। बल्कि ये आपकी सेहत को भी बहुत सारे फायदे देता है। आजकल लोगों में फैटी लीवर की समस्या बहुत ज्यादा देखने को मिल रही है। ऐसे में गन्ने का जूस लीवर के लिए नेचुरल डिटॉक्स का काम करता है। लेकिन इसे पीने का सही तरीका पता होना जरूरी है। नहीं तो गन्ने के जूस से सर्दी-जुकाम भी हो जाता है। 

लीवर को करता है डिटॉक्सीफाई
गन्ने का जूस लीवर को डिटॉक्स करने में मदद करता है। इसमे मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व लीवर के इंफेक्शन को खत्म करते हैं। साथ ही लीवर के काम करने की कैपिसिटी को भी बढ़ाते हैं। 

पीलिया में देता है आराम
लीवर की खराबी की वजह से पीलिया हो जाता है। पीलिया में गन्ने का जूस बहुत फायदेमंद होता है। शरीर में बिलरुबिन की मात्रा बढ़ने पर पीलिया हो जाता है। गन्ने का जूस बिलरुबिन के लेवल को मेंटेन रखता है। जिससे पीलिया में राहत मिलती है। 

किडनी को भी रखता है दुरुस्त
गन्ने का जूस किडनी को भी फिट रखने में मदद करता है। टॉक्सिंस को दूर करने से लेकर किडनी को इंफेक्शन से बचाने में गन्ने का जूस मदद करता है। जिन लोगों को बार-बार यूरिन इंफेक्शन परेशान करता है उन्हें गन्ने का जूस पीना चाहिए। इससे किडनी स्टोन को बढ़ने से भी रोकता है। 

डाइजेस्टिव सिस्टम रखे ठीक
गन्ने के जूस में पोटैशियम काफी ज्यादा मात्रा में होता है। जिससे ये पेट का पीएच लेवल मेंटेन करके रखता है। डाइजेशन के लिए जरूरी जूस को सही तरीके से निकालने में गन्ने का जूस हेल्प करता है। जिसकी वजह से खाना आसानी से पच जाता है। 

कब्ज होता है दूर
गन्ने में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है। जो आंतो को साफ कर कब्ज दूर करने में मदद करता है। 

एनर्जी और इम्यूनिटी बूस्टर
गन्ने का जूस गर्मियों में पीने से शरीर को एनर्जी मिलती है और इम्यूनिटी भी बूस्ट होती है।

लीवर डिटॉक्स करने के लिए कब पिएं गन्ने का जूस 
लीवर डिटॉक्स करने के लिए अगर आप गन्ने का जूस पीना है तो इस तरह पीना सही होगा। 


-ब्रेकफास्ट से एक घंटा पहले गन्ने का जूस पिया जा सकता है।

-वहीं दोपहर में खाना खाने के करीब दो घंटा बाद गन्ने का जूस पीना चाहिए।

-हालांकि शाम को यानी सूरज ढलने के बाद गन्ने का जूस बिल्कुल नहीं पीना चाहिए। 

-इन दो समय पर गन्ने का जूस पीने से लीवर को डिटॉक्स करने में मदद मिलती है।