Haryana News

बुजुर्ग महिला की पैदल यात्रा से बैकफुट पर SBI, करने जा रहा यह बदलाव

 | 
बुजुर्ग महिला की पैदल यात्रा से बैकफुट पर SBI, करने जा रहा यह बदलाव

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI पेंशनधारकों और वरिष्ठ ग्राहकों को सहूलियत देने के लिए बैंकिंग प्रतिनिधि या ग्राहक सेवा केंद्र पर आंखों की पुतलियों के जरिये पहचान की सुविधा (आइरिस स्कैनर) उपलब्ध कराने की संभावनाओं पर गौर कर रहा है। बैंक प्रतिनिधि के पास ही 'आइरिस स्कैनर' की सुविधा मिल जाने से वरिष्ठ ग्राहकों को बैंक शाखा जाने की जरूरत नहीं रह जाएगी। वे अपने नजदीकी बैंक मित्र केंद्र से ही पेंशन निकाल पाएंगे।

SBI ने एक बयान में कहा कि वह अपने बैंक मित्र संचालकों के पास 'आइरिस स्कैनर' लगाने के विकल्प का परीक्षण कर रहा है। इससे वरिष्ठ ग्राहकों और पेंशनधारकों की चुनौतियों में कमी आएगी। 'आइरिस स्कैनर' की मदद से किसी व्यक्ति की आंखों की पुतलियों के जरिये पहचान की पुष्टि की जा सकती है।

क्या है वजह: हाल ही में ओडिशा के नवरंगपुर जिले में एक बुजुर्ग महिला अपनी पेंशन निकालने के लिए बैंक मित्र के पास गई थीं लेकिन अंगुलियों की पुष्टि नहीं हो पाने से उन्हें काफी समस्या का सामना करना पड़ा था। बैंक ने कहा कि इस तरह की स्थिति से बचने के लिए आइरिस स्कैनर लगाने की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं।