Haryana News

सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद पेट में बनने लगी है गैस तो इन तरीकों से मिलेगी निजात

 | 
सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद पेट में बनने लगी है गैस तो इन तरीकों से मिलेगी निजात

महिलाओं के लिए मां बनना आसान नहीं होता। प्रेग्नेंसी से लेकर बच्चे के पैदा होने के बाद भी उन्हें कई सारी फिजिकल चेंजस से गुजरना पड़ता है। फिर वो चाहें नॉर्मल डिलीवरी हो या फिर आपरेशन यानी सी-सेक्शन डिलीवरी। दोनों में ही महिलाओं को रिकवरी के लिए समय की जरुरत होती है। सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद ज्यादातर महिलाओं को गैस बनने की परेशानी से गुजरना पड़ता है। कई बार तो ये तकलीफ काफी ज्यादा बन जाती है। तो वहीं कई बार गैस्ट्रिक पास उन्हें शर्मिंदा भी कर देता है। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि आखिर सी-सेक्शन के बाद गैस बनने का कारण क्या है और कैसे इससे छुटकारा पाया जा सकता है।

सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद क्यों बनने लगती है गैस
सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद पेट में गैस बनने की समस्या काफी ज्यादा कॉमन है और लगभग हर महिला को इससे गुजरना पड़ता है। दरअसल. सर्जरी के लिए एनेस्थीसिया लगाकर एब्डॉमिनल के हिस्से को काटा जाता है। फिर टांकों की मदद से सिला जाता है। जिसकी वजह से दर्द और सूजन होती है। जिसकी वजह से बाउल मूवमेंट पहले की तरह काम करना बंद कर देता है और गैस पास करने में दिक्कत आती है। इसलिए जरूरी है कि सी-सेक्शन के बाद खानपान के मामले में काफी सारी सावधानियां बरती जाएं। जिससे कि गैस बनने की समस्या परेशान ना करें।

इन वजहों से परेशान करती है गैस की प्रॉब्लम
आपरेशन से बच्चे पैदा होने के बाद गैस बनने की समस्या अक्सर इन गड़बड़ियों की वजह से ज्यादा परेशान करती है। 

खानपान
सी-सेक्शन के बाद डॉक्टर खानपान के मामले में काफी सारी सावधानियां बरतने को कहते हैं। इसलिए अपने खाने का सही चुनाव जरूरी है। कई बार दूध, अनाज, प्रूंस, स्प्राउट्स जैसे हेल्दी लगने वाले फूड भी गैस्ट्रिक पेन का कारण बन जाते हैं तो वहीं बेवरेज फूड वगैरह को तो बिल्कुल भी नहीं खाना चाहिए। 

इन फूड्स को बिल्कुल ना खाएं
सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद हाई फैट वाले फूड खाने के लिए डॉक्टर मना करते हैं। लेकिन इसके साथ ही हाई फाइबर वाले फूड्स को भी खाने से बचना चाहिए। 

कब्ज
सी-सेक्शन डिलीवरी के बाद कब्ज की समस्या सबसे ज्यादा गैस्ट्रिक पेन का कारण बनती है। सख्त स्टूल बाउल मूवमेंट को खराब कर देती है। जिसकी वजह से एब्डॉमिनल में गैस बनती है और दर्द होने लगता है। 

पानी पिएं
बच्चे के पैदा होने के बाद हाइड्रेटेड रहना जरूरी है। ढेर सारा पानी पिएं। जिससे कि कब्ज की समस्या ना हो और बाउल मूवमेंट ठीक तरीके से हो और गैस क्लियर रहे।

स्मोक और ड्रिंक से रहें दूर
आपरेशन से बच्चे की डिलीवरी हुई है तो स्मोकिंग और एल्कोहल ड्रिंक से पूरी तरह से दूर रहें।

डाइट बदल दें
अगर सी-सेक्शन के बाद बहुत ज्यादा गैस्ट्रिक पेन परेशान कर रहा है तो अपनी डाइट को बदल दें। फैट और फाइबर की मात्रा कम लें। पत्तेदार सब्जियां और फल ज्यादा खाएं। जिससे कि स्टूल हार्ट ना होने पाएं।

स्ट्रॉ का इस्तेमाल ना करें
स्ट्रॉ की मदद से किसी भी तरह के लिक्विड को ना पिएं। इससे पेट में ज्यादा बबल बनते हैं और गैस की प्रॉब्लम होने लगती है। इसके साथ ही खाने को खूब चबाकर खाएं।

चलना है जरूरी
सी-सेक्शन के बाद से ही चलने पर पूरी तरह से जोर दें। जितना मूव करेंगी उतना कम गैस की प्रॉब्लम होगी। अगर बॉडी में वीकनेस या आलस है तो वॉक ज्यादा करने की जरूरत नही है लेकिन कमरे में ही हल्की वॉक जरूर करें। जिससे कि गैस की प्रॉब्लम परेशान ना करे।