Haryana News

Google पर एक गलती पड़ी भारी, अकाउंट से कट गए 8.24 लाख, कहीं आप तो नहीं करते ऐसा

 | 
Google पर एक गलती पड़ी भारी, अकाउंट से कट गए 8.24 लाख, कहीं आप तो नहीं करते ऐसा

ऑनलाइन ठगी के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. लोगों को फंसाने के लिए स्कैमर्स तरह-तरह के जाल ऑनलाइन फैला रखे हैं. हाल में ही ऑनलाइन फ्रॉड का एक मामला नोएडा से सामने आया है, जहां एक यूजर से 8.24 लाख रुपये की ठगी हुई है. ठगी का ये पूरा मामला ऑनलाइन सर्च में की गई गलती से जुड़ा हुआ है. 

दरअसल, पीड़ित सीनियर सिटीजन हैं, जो अपने डिशवॉशर के लिए कस्टमर केयर नंबर ऑनलाइन तलाश रहे थे. पीड़ित कपल नोएडा के सेक्टर 133 में रहता है. शिकायत के मुताबिक, ऑनलाइन ठगी का ये मामला 22 जनवरी और 23 जनवरी का है. पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. 

कैसे हुए ठगी का पूरा खेल?
FIR के मुताबिक, अमरजीत सिंह और उनकी पत्नी IFB डिशवॉशर के कस्टमर केयर नंबर का नंबर गूगल पर सर्च कर रहे थे. उनकी पत्नी ने ऑनलाइन सर्च से 1800258821 नंबर निकाला, जो IFB कस्टमर्स केयर के नाम से गूगल पर मौजूद था.


हालांकि, ये नंबर अब  बंधन बैंक के कस्टमर केयर के तौर पर दिख रहा था. पीड़ित ने बताया कि जब उनकी पत्नी ने इस नंबर पर कॉल की, तो एक महिला ने फोन उठाया और उसने अपने सीनियर से कॉल कनेक्ट करने की बात कही.


इसके बाद कथित सीनियर ऑफिसर ने उनकी पत्नी से फोन पर AnyDesk ऐप डाउनलोड करने के लिए कहा और उनसे कुछ डिटेल्स मांगी. इसके बाद फ्रॉड्स ने महिला से 10 रुपये का ट्रांजेक्शन करने के लिए कहा, जिससे कंप्लेंट दर्ज हो सके. 

प्रॉसेस के दौरान ठगों की कॉल कई बार कटी और उन्होंने पर्सनल नंबर से पीडिता को लगातार कॉल की. उसी दिन शाम 4.15 बजे बुजुर्ग के अकाउंट से 2.25 लाख रुपये का ट्रांजेक्शन हुआ. अगली सुबह उन्होंने एक और मैसेज देखा, जो 5.99 लाख रुपये का था.

पीड़ित ने इस मामले की जानकारी पुलिस और बैंक दोनों को दी. इसके बाद उन्होंने अपने जॉइंट अकाउंट को फ्रीज करा दिया. हालांकि, तब तक काफी देर हो चुकी थी और उनके अकाउंट से काफी पैसे कट गए. 

कैसे बच सकते हैं आप?
ऑनलाइन ठगी का ये मामला नया नहीं है. इस तरह के मामले पहले भी कई बार देखने को मिले हैं. दरअसल, स्कैमर्स कई बार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर कई फेक नंबर्स को कस्टमर केयर के नाम से रजिस्टर कर देते हैं.

इससे जब भी कोई कंज्यूमर्स ऑनलाइन सर्च करता है, तो उसे ये फर्जी नंबर नजर आता है. यदि कोई यूजर उनके जाल में फंसकर कॉल करता है, तो स्कैमर्स उसके साथ ठगी करते हैं. इस तरह के स्कैम से खुद को बचाने के लिए आपको ऑनलाइन सर्च करते हुए सावधान रहना चाहिए.

किसी भी नंबर पर कॉल ना करें, बल्कि कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट से ही कस्टमर केयर का नंबर हासिल करें. वहीं AnyDesk या किसी दूसरे ऐप को अपने पर्सनल डिवाइस पर कभी भी डाउनलोड ना करें.

इससे स्कैमर्स को आपके डेटा का एक्सेस मिल जाता है. कस्टमर केयर कभी भी आपसे पैसे नहीं मांगता, बल्कि किसी सर्विस के लिए आपको पैसे देने भी पड़े, तो सर्विस होने के बाद देना होता है.