Haryana News

बंगाल में 'द केरल स्टोरी' पर लगा बैन, ममता बनर्जी बोलीं- भाजपा ने बनवाई है फिल्म

 | 
बंगाल में 'द केरल स्टोरी' पर लगा बैन, ममता बनर्जी बोलीं- भाजपा ने बनवाई है फिल्म

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने 'द केरल स्टोरी' फिल्म को बैन कर दिया है। खुद ममता बनर्जी ने इस फिल्म पर सवाल उठाते हुए कहा, 'द कश्मीर फाइल्स क्या है? यह एक वर्ग को अपमानित करने वाला है। द केरल स्टोरी क्या है? यह भी एक गलत तरह से पेश की गई कहानी है।' ममता बनर्जी ने इस मामले में विपक्षी दल सीपीएम पर भी निशाना साधा और कहा कि वह इस मसले पर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। राज्य सचिवालय में ममता बनर्जी ने फिल्म पर बैन का ऐलान किया। इससे कुछ देर पहले ही उन्होंने आरोप लगाया था कि भाजपा 'द कश्मीर फाइल्स' की तर्ज पर बंगाल पर भी एक फिल्म बनवा रही है और इसके लिए फंडिंग कर रही है।

ममता बनर्जी ने द केरल स्टोरी पर बैन का फैसला सुनाते हुए चीफ सेक्रेटरी को आदेश दिया कि वे यह सुनिश्चित करें कि राज्य में कहीं भी फिल्म की स्क्रीनिंग ना हो सके। उन्होंने कहा कि यह फैसला राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए लिया गया है। इस फिल्म के चलने से हेट क्राइम और हिंसा की घटनाओं की आशंका है। उन्होंने इस फिल्म को लेकर चुप्पी साधने पर सीपीएम पर भी हमला बोला। ममता ने कहा कि सीपीएम तो भाजपा के साथ काम कर रही है। उसे इस फिल्म की आलोचना करनी चाहिए। 

टीएमसी की नेता ने कहा कि वह इस फिल्म को लेकर केरल के सीएम पिनराई विजयन से बात करेंगी। उन्होंने कहा कि सीपीएम के लोग ही मुझे बताते हैं कि वे भाजपा के साथ काम कर रहे हैं। ममता ने कहा कि इस फिल्म में तथ्यों को गलत ढंग से पेश किया गया है। उन्होंने कहा कि कहानी यहीं समाप्त नहीं होती। इन लोगों का अगला टारगेट बंगाल हो सकता है। उन्होंने कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि अब ये लोग बंगाल को टारगेट कर सकते हैं। बंगाल फाइल भी बनाई जा सकती है। 

'अब बंगाल की बारी है, बना रहे हैं नई फिल्म'
ममता बनर्जी ने कहा, 'मुझे पता चला है कि बंगाल फाइल भी तैयार की जा रही है। पहले इन्होंने कश्मीर के लोगों का अपमान किया। फिर केरल के लोगों के साथ ऐसा हुआ। अब बंगाल की बारी है।' बता दें कि द केरल स्टोरी को लेकर इन दिनों चर्चा जोरों पर है। हालांकि कई हस्तियां ऐसी हैं, जिन्होंने बैन का विरोध किया है। इनमें से ही एक शबाना आजमी भी हैं। उन्होंने सोमवार को कहा कि वह किसी भी फिल्म के बैन और बायकॉट के खिलाफ हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग इस फिल्म का बायकॉट करना चाहते हैं, वे वैसे ही हैं जैसे 'लाल सिंह चड्ढा' मूवी का बायकॉट करने वाले थे।

फिल्म निर्देशक बोले- ना माने तो हम कानूनी कार्रवाई करेंगे
इस बैन पर फिल्म के निर्देशक विपुल शाह का भी बयान आया है। उन्होंने कहा कि यदि राज्य सरकारें हमारी बात नहीं सुनेंगी तो फिर कानूनी कार्रवाई करेंगे। बता दें कि बंगाल सरकार ने 'द केरल स्टोरी' को बैन कर दिया है, जबकि तमिलनाडु में थिएटर मालिकों ने मूवी की स्क्रीनिंग को बंद कर दिया है। कहा जा रहा है कि तमिलनाडु सरकार के दबाव में ही फिल्म की स्क्रीनिंग को रोका गया है।