Haryana News

खिचड़ी घोटाले के सरगना हैं संजय राउत, निरुपम का उद्धव कैंप पर बड़ा आरोप

 | 
खिचड़ी घोटाले के सरगना हैं संजय राउत, निरुपम का उद्धव कैंप पर बड़ा आरोप

कांग्रेस को अलविदा कह चुके संजय निरुपम अब उद्धव ठाकरे कैंप को घेरते नजर आ रहे हैं। उन्होंने राज्यसभा सांसद संजय राउत पर खिचड़ी घोटाले के सरगना होने के आरोप लगाए हैं। साथ ही उन्होंने शिवसेना (उद्धव बालासाहब ठाकरे) के उम्मीदवार अमोल कीर्तिकार को गिरफ्तार करने की मांग की है। हाल ही में ED यानी प्रवर्तन निदेशालय ने कीर्तिकार को नोटिस भेजा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उन्होंने आरोप लगाए हैं कि इस घोटाले में राउत के परिवार ने एक करोड़ रुपये की दलाली ली है। उन्होंने कहा कि इस घोटाले में और लोग भी हैं। निरुपम के आरोप हैं कि राउत ने पत्नी, बेटी, और भाई के नाम पर रुपये लिए हैं। उन्होंने कहा कि सह्याद्री रिफ्रेशमेंट को 6 करोड़ रुपये का ठेका मिला था और राउत और उनके दोस्तों को एक करोड़ रुपये मिले हैं।

कांग्रेस के पूर्व नेता के आरोप हैं, 'उसने (राउत) बेटी विधिता संजय राउत के नाम चेक के जरिए रिश्वत ली है, जो खुद मासूम हैं और इन सब बातों के बारे में नहीं जानती हैं।' समन मिलने के बाद कीर्तिकार भी ईडी के सामने पेश हो चुके हैं। खास बात है कि खिचड़ी घोटाले में आरोपों का सामना करने वाले राउत शिवसेना (UBT) के दूसरे नेता हैं।


राउत की गिरफ्तारी की मांग
निरुपम का कहना है कि कीर्तिकार तो खिचड़ी चोर हैं और राउत भी खिचड़ी चोर हैं। उन्होंने कहा कि जब तत्कालीन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे फेसबुक लाइव कर रहे थे, तब यह घोटाला हो रहा था। उन्होंने मांग उठाई है कि अगर ईडी खिचड़ी घोटाले की जांच कर रही है, तो उन्हें राउत को भी गिरफ्तार करना चाहिए।