Haryana News

Odisha Train Accident: 10 लाख रुपये का बीमा 35 पैसे में, टिकट बुकिंग के वक्त ये गलती तो नहीं करते आप?

 | 
Odisha Train Accident: 10 लाख रुपये का बीमा 35 पैसे में, टिकट बुकिंग के वक्त ये गलती तो नहीं करते आप?

Indian Railway Insurance: ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार शाम साल 2023 का सबसे भयानक रेल हादसा हुआ, जिसने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया. अब तक इस हादसे में 280 लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग 900 लोग घायल हैं. यूं तो इंसानी जान की कोई कीमत हो ही नहीं सकती. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) पर टिकट बुकिंग करते वक्त यात्रियों को इंश्योरेंस दिया जाता है. इसके तहत 10 लाख रुपये तक का बीमा कवर मिलता है.

टिकट बुकिंग के वक्त मिलता है विकल्प
जब भी दूर का सफर होता है तो लोग ट्रेन से सफर करना पसंद करते हैं. घर बैठे टिकट भी बुक हो जाता है और पसंद की सीट व खाने-पीने का ऑप्शन भी मिल जाता है. इन सबके अलावा टिकट बुकिंग के वक्त इंश्योरेंस लेने का भी ऑप्शन मिलता है. अगर सफर के दौरान कोई हादसा हो जाता है तो उस स्थिति में जान-माल का नुकसान कवर हो जाता है.

इससे सस्ता और कहां?
जब यात्री टिकट बुकिंग कराते हैं तो उनको जीरो प्रीमियम पर 10 लाख का बीमा 35 पैसे में मिलता है. इसको चुनना या नहीं चुनना लोगों के हाथ में होता है. मगर इससे किफायती और बेहतरीन बीमा कवर यात्रियों के लिए नहीं हो सकता.

IRCTC की वेबसाइट पर टिकट बुकिंग करते वक्त पेमेंट प्रोसेस के दौरान आपको ट्रैवल इंश्योरेंस का ऑप्शन मिलता है. अगर आप इस विकल्प को चुनते हैं तो 35 पैसे में इंश्योरेंस कवर मिल जाता है. खास बात ये है कि अगर कई यात्रियों के टिकट एक पीएनआर पर बुक हैं तो सभी पर ये बीमा कवर लागू होगा.

किन स्थितियों में मिलेगा इंश्योरेंस
आईआरसीटीसी की वेबसाइट के मुताबिक, 35 पैसे देकर आप इस बीमा कवर का फायदा ले सकते हैं. इसमें स्थायी पूर्ण विकलांगता, चोट या गंभीर चोटों, स्थायी आंशिक विकलांगता, परिवहन से लेकर अस्पताल में भर्ती होने का खर्च और यात्रा के दौरान मृत्यु को शामिल किया गया है. हालांकि इसकी श्रेणियां अलग-अलग हैं.


मौत पर 10 लाख रुपये
आईआरसीटीसी के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, अगर यात्रा के दौरान यात्री चोटिल हो जाता है तो अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में उसको 2 लाख रुपये दिए जाते हैं. जबकि स्थायी आंशिक विकलांगता को लेकर 7.5 लाख रुपये का कवर मिलता है. अगर यात्री की हादसे के दौरान मौत हो जाती है तो पार्थिव शरीर को ले जाने वाली गाड़ी के लिए 10 हजार रुपये व स्थायी पूर्ण विकलांगता और मौत की स्थिति में 10 लाख रुपये का कवर मिलता है.