Haryana News

Mamata Banarjee: माताओं के सामने भीख मांग लूंगी, लेकिन दिल्ली से कभी नहीं...ऐसा क्यों बोलीं सीएम ममता

 | 
Mamata Banarjee: माताओं के सामने भीख मांग लूंगी, लेकिन दिल्ली से कभी नहीं...ऐसा क्यों बोलीं सीएम ममता

Mamata Banarjee Statement: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य के लिए उचित फंड के मुद्दे पर केंद्र सरकार पर हमलावर हैं. उन्होंने गुरुवार को सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जरूरत पड़ी तो साड़ी का आंचल फैलाकर माताओं के सामने भीख मांग लूंगी लेकिन दिल्ली से भीख मांगने कभी नहीं जाऊंगी. 

ममता बनर्जी ने कहा, मेरे मन में बस यही होता है कि लोग मुझे कभी गलत न समझें. कभी-कभी हमें फंड दिया जाता है, कभी-कभी नहीं दिया जाता. अभी सुनने में आ रहा है कि हमें 2024 तक कुछ नहीं दिया जाएगा. जरूरत पड़ी तो साड़ी का आंचल फैला कर माताओं के सामने भीख मांग लूंगी लेकिन दिल्ली से भीख मांगने कभी नहीं जाऊंगी. 

ममता बनर्जी ने कोलकाता में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं. यह पहला मौका नहीं है जब ममता बनर्जी ने केंद्र पर बंगाल सरकार को फंड न देने का आरोप लगाया है.  29-30 मार्च को उन्होंने राज्य की योजनाओं के लिए केंद्र की ओर से फंड न देने का आरोप लगाकर कोलकाता में दो दिन का धरना किया था. धरने पर बैठकर ममता बनर्जी ने कहा था कि 100 दिन काम योजना और अन्य योजनाओं के लिए केंद्र राशि जारी नहीं कर रही है.  केंद्रीय बजट में भी हमें मनरेगा और आवास योजना के लिए एक रूपया नहीं दिया है.

ममता बनर्जी का ये धरना पहले दिल्ली में अंबेडकर की मूर्ति के सामने होने वाला था, लेकिन बाद में उन्होंने कोलकाता में ही धरने पर बैठने का फैसला किया. ममता बनर्जी ने मंगलवार को बताया था कि वह 29 और 30 मार्च को केंद्र सरकार के खिलाफ धरना देंगी. उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार आम आदमी के पैसे को रोककर रख रही है. बंगाल में लोगों के रोजगार के पैसे केंद्र को लौटाना ही होगा.