Haryana News

पहले भारत के खिलाफ उगला जहर, अब तिरंगे का अपमान; नहीं सुधरीं मालदीव की नेता

 | 
पहले भारत के खिलाफ उगला जहर, अब तिरंगे का अपमान; नहीं सुधरीं मालदीव की नेता

India-Maldives: मालदीव के मंत्रियों का भारत के खिलाफ जहर उगलना जारी है। पहले विवादित टिप्पणी को लेकर निलंबित हो चुकीं मरियम शिउना ने अब भारतीय तिरंगे का मजाक उड़ाया है। हालांकि, उन्हें विवादित पोस्ट को डिलीट कर दिया है और माफी भी मांगी है। खास बात है कि मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू को चीन का समर्थक माना जाता है। वह लगातार मालदीव से भारतीय सैनिकों को वापस बुलाने की मांग की कर रहे हैं

क्या है मामला
खबरें हैं कि मालदीव में विपक्षी दल MDP यानी मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी को निशाना बनाने के लिए शिउना ने सोशल मीडिया पोस्ट किया था। अब डिलीट हो चुके उस पोस्ट में पार्टी के लोगो की जगह भारतीय तिरंगे में मौजूद अशोक चक्र को लगा दिया गया था।

अब मांगी माफी
शिउना अब माफी मांगती हुई भी नजर आ रही हैं। उन्होंने लिखा, 'मैं हाल ही में की गई एक सोशल मीडिया पोस्ट के बारे में बात करना चाहती हूं, जो चर्चा में है और आलोचना का शिकार है। मेरी हालिया पोस्ट के चलते हुए किसी भी तरह के कन्फ्यूजन के लिए माफी मांगती हूं।'

उन्होंने लिखा, 'मेरे ध्यान में यह बात लाई गई है कि MDP के जवाब में मेरी तरफ से इस्तेमाल में लाई गई तस्वीर भारतीय झंडे से मिलती जुलती है। मैं यह साफ कर देना चाहती हूं कि ऐसा अनजाने में हुआ था और मैं किसी भी गलतफहमी के लिए गंभीरता से माफी मांगती हूं। मालदीव भारत के साथ अपने रिश्ते की का सम्मान करता है।'

कौन हैं मरियम शिउना
शिउना राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू की सरकार में जूनियर मिनिस्टर थीं। वह माले सिटी काउंसिल की प्रवक्ता भी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्षद्वीप दौरे को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया था। मालदीव सरकार ने दो और मंत्रियों अब्दुल्ला महजूम माजिद और मालशा शरीफ के खिलाफ भी ऐक्शन लिया था।