Haryana News

Haryana BPL Card: नौ लाख फर्जी राशन कार्ड का चला पता, 80 हजार सरकारी कर्मचारी भी शामिल, जल्द होगी करवाई

 | 
Haryana BPL Card: नौ लाख फर्जी राशन कार्ड का चला पता, 80 हजार सरकारी कर्मचारी भी शामिल, जल्द होगी करवाई

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार 5 एस, शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, स्वाभिमान और स्वावलंबन के मूलमंत्र पर कार्य कर रही है। तकनीक का इस्तेमाल करके सुविधाओं को आनलाइन देने और अंत्योदय पर जोर दिया है, ताकि पात्र लोगों को योजनाओं का लाभ मिल सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीपीजी के माध्यम से 12 लाख नए राशन कार्ड बनाए गए हैं, जबकि 9 लाख फर्जी राशन कार्ड रद्द हुए हैं। इनमें से आयकर भरने वाले 3 लाख लोगों के कार्ड हटाए गए और 80 हजार सरकारी कर्मचारियों के कार्ड भी शामिल हैं। मुख्यमंत्री सोमवार को यहां नई दिल्ली के हरियाणा भवन में मीडिया से बातचीत कर रहे थे।


मनोहर लाल ने कहा कि पिछले साल बजट के दौरान की गई घोषणाओं के 80 प्रतिशत कार्य पूरे किए जा चुके हैं और आने वाली एक अप्रैल, 2023 से नए बजट में किए गए प्रावधानों पर कार्य आरंभ कर दिया जाएगा। किसानों के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हरियाणा का किसान लगभग हर क्षेत्र में अग्रणी रहता है और इसी वजह से वह आंदोलन में भी अग्रणी भूमिका रखता है, फिर भी हमने किसानों की सुरक्षा को देखते हुए कई योजनाएं चलाई हुई है, क्योंकि किसान रिस्की जोन में आता है।

पानी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने पानी की चिंता की है और इसी को देखते हुए किसानी से जुड़े कार्यों को आगे बढ़ाने के लिए कई उत्कृष्टता केन्द्र खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि मेवात हरियाणा का आकांक्षी जिला हैं और इस बार की रेटिंग में मेवात ने विकास के मामले में आकांक्षी जिलों में अव्वल स्थान हासिल किया है। वर्ष 2014 में पुलिस में महिलाओं की भागीदारी 6 प्रतिशत थी अब इसे अब 15 प्रतिशत तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है।

सड़कों की मरम्मत के लिए 2200 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है और 15 मार्च के बाद 5000 किलोमीटर सड़कों की मरम्मत, निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इसी प्रकार, प्रदेश में चिकित्सा सुविधाएं बढ़ाने के लिए आने वाले समय में 11 नए मेडिकल काॅलेज खोले जाएंगे, जिनके लिए 10 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया।