Haryana News

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की तरफ से ग्रुप डी CET की परीक्षा अनिश्चितकाल के लिए टली, जानिए क्या कहा भोपाल सिंह खदरी ने

 | 
हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की तरफ से ग्रुप डी CET की परीक्षा अनिश्चितकाल के लिए टली, जानिए क्या कहा भोपाल सिंह खदरी ने

Haryana Cet : हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की तरफ से ग्रुप डी पदों के लिए होने वाला कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट सीईटी अनिश्चितकाल के लिए टल गया है । पहले  है परीक्षा फरवरी-मार्च 2023 में आयोजित करवाए जाने की योजना थी । आयोग के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) यह परीक्षा आयोजित करता है ग्रुप डी पदों के लिए सीईटी परीक्षा इसलिए अनिश्चितकाल के लिए टाली गई है । 

क्योंकि प्रदेश सरकार चाहती है कि पहले ग्रुप सी पदों पर भर्ती प्रक्रिया पूरी कर ली जाए । इस समय ग्रुप सी पदों के लिए सीईटी का रिजल्ट आ चुका है । इस रिजल्ट में उम्मीदवारों की त्रुटियां दूर की जा रही है । यह प्रक्रिया फिलहाल जारी है । पिछली बार जब ग्रुप डी की भर्ती लगभग  4 साल पहले हुई थी, उसके चयनित काफी उम्मीदवारों का चयन बाद में ग्रुप सी पदों पर भी हुआ था इसलिए उन्होंने ग्रुप डी की नौकरी छोड़ दी थी ।


 इस वजह से उन युवाओं का नुकसान हो गया जो उस समय चयन सूची में आ सकते थे मगर मेरिट के कारण चयनित हुए उम्मीदवारों के कारण नहीं आ सके और यह चयनित ग्रुप सी की नौकरी में चले गए। इसलिए अब प्रदेश सरकार चाहती है कि ग्रुप सी की भर्ती के लिए सीईटी हो चुका है। अब स्क्रीनिंग टेस्ट होना है। इसलिए ग्रुप सी पदों पर पहले भर्ती कर ली जाए। जो इसमें चयनित हो जायेंगे, वे ग्रुप डी सीईटी परीक्षा में ही नहीं बैठेंगे। 


फिलहाल ग्रुप डी के लिए सीईटी नहीं होगा : भोपाल सिंह खदरी :  ग्रुप डी पदों के लिए सीईटी परीक्षा कब होगी ? अध्यक्ष भोपाल सिंह खदरी ने कहा, प्रदेश सरकार चाहती है कि पहले ग्रुप सी पदों की भर्ती पूरी हो। इसके बाद ग्रुप डी के लिए सीईटी होगा प्रदेश सरकार का फैसला आयोग को मानना पड़ता है। ग्रुप डी के लिए सीईटी का समय फिलहाल नहीं बताया जा सकता ।


ग्रुप सी सीईटी परिणाम की त्रुटियां दूर करने के लिए समय बढ़ेगा !
ग्रुप सी के सीईटी परिणाम में काफी उम्मीदवारो के अंको  में त्रुटियां हैं। ये त्रुटियां या तो परिवार पहचान पत्र के कारण हुई है या उम्मीदवारों की तरफ से जब वन टाइम रजिस्ट्रेशन करते समय गलतियां हो रखी है हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने डाईटेक विभाग के जरिए लिंक जारी कर रखा है इस पर त्रुटियां दूर करने का समय 16 फरवरी है अब यह तारीख बढ़ा दी गई है मगर अभी तक लगभग 45000 उम्मीदवारों की त्रुटियां ही दूर कर पाए है। 


कुछ उम्मीदवारों को त्रुटियां दूर करने में दिक्कतें आ रही हैं इसलिए त्रुटियां दूर करने के लिए आयोग कुछ समय बढ़ा सकता है जो दिखते आ रही है उन्हें भी दूर करने के लिए पोर्टल में कुछ सुधार हो सकता है आयोग के अध्यक्ष श्री भोपाल सिंह खत्री ने सचिव विराट के साथ  डाईटेक के साथ मीटिंग की है । कुछ उम्मीदवार ऐसे हैं, जिन्होंने जनरल कैटेगरी भरा है मगर सीईटी परिणाम सूची में उन्हें एससी कैटेगरी में दिखा रखा है जबकि कुछ ही एससी कैटेगरी होने के बावजूद जनरल कैटेगरी में दिखाया हुआ है। ईडब्ल्यूएस कैटेगरी में भी आय से संबंधित प्रमाण पत्र अपलोड करने में दिक्कत आ रही है।