Haryana News

पंजाब में पुरानी पेंशन बहाल अब हरियाणा में कर्मचारी संगठनों ने उठाई यह मांग, जानिए क्या है मांग

 | 
पंजाब में पुरानी पेंशन बहाल अब हरियाणा में कर्मचारी संगठनों ने उठाई यह मांग, जानिए क्या है मांग 
पंजाब में मान सरकार ने पुरानी पेंशन योजना को बहाल कर दिया है। जबकि इसके बाद हरियाणा में यह मुद्दा गर्माने लगा है। कर्मचारी संघों ने एक सुर में कहा कि प्रदेश में पुरानी पेंशन योजना को बहाल किया जाए। इस मांग को लेकर पहले भी सर्व कर्मचारी संघ समेत अन्य कर्मचारी संगठन कई बार आंदोलन कर चुके हैं। हरियाणा में एक लाख से अधिक कर्मचारी पुरानी पेंशन योजना के दायरे में आते हैं।


सर्व कर्मचारी संघ के प्रदेश प्रधान सुभाष लांबा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल को पत्र लिखकर पुरानी स्कीम बहाल करने की मांग की है। संघ ने कहा कि पंजाब की तर्ज पर पेंशनर्स की बेसिक पेंशन में बढ़ोतरी की जाए। हरियाणा में 80 साल की आयु होने पर पेंशनर्स की बेसिक पेंशन में 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी होती है। 


पंजाब में 65 साल आयु होने पर 5 प्रतिशत, 70 पर 10 प्रतिशत, 75 पर 15 और 80 साल आयु होने पर 20 प्रतिशत बेसिक पेंशन की बढ़ोतरी होती है। भाजपा ने 2014 के चुनाव घोषणा पत्र में पंजाब के समान वेतनमान व पेंशन का वादा किया था। इसको अभी तक पूरा नहीं किया है। तीन लाख से ज्यादा पेंशनर्स व फैमिली पेंशनर्स में सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ भारी आक्रोश। 

वहीं, सेवानिवृत्त कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान जरनैल सिंह सांगवान व महासचिव रामकिशन ने कहा कि 2014 में भाजपा ने विधानसभा चुनाव के समय अपने गीता के समान कहे जाने वाले घोषणा पत्र में सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पंजाब के समान पेंशन व फैमिली पेंशन देने का वादा किया था लेकिन सरकार बनते ही भाजपा अपने वादे से मुकर गई।