Haryana News

Sonali Phogat Case में पुलिस के हाथ लगे अब तक के सबसे बड़े सबूत, एक शख्स भी अरेस्ट

 | 
Sonali Phogat Case में पुलिस के हाथ लगे अब तक के सबसे बड़े सबूत, एक शख्स भी अरेस्ट

Sonali Phogat Murder Mystery: भाजपा नेता सोनाली फोगाट के हत्याकांड के मामले में हरियाणा पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. दरअसल पुलिस ने सोनाली के फार्म हाउस से सीसीटीवी का डीवीआर गायब करने वाले शिवम को पकड़ लिया है. उससे हरियाणा पुलिस की एक टीम पूछताछ कर रही है. अब सोनाली फोगाट के मर्डर का राज खुलने की उम्मीद बढ़ गई है.

सोनाली के परिवार फॉर्म हाउस स्थित दफ्तर से लैपटॉप, डीवीआर, ऑफिस का मोबाइल फोन और अन्य दस्तावेज चुराकर गायब होने का आरोप कंप्यूटर ऑपरेटर शिवम पर लगाया था. उस कंप्यूटर ऑपरेटर शिवम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और पूछताछ जारी है. शिवम से पूछा जा रहा है कि उसने किसके कहने पर यह चोरी की थी. पिछले 1 हफ्ते से पुलिस शिवम की तलाश में हरियाणा और दिल्ली में अलग अलग जगह छापेमारी कर रही थीं.

वहीं सोनाली फोगाट हत्याकांड की जांच के लिए गोवा पुलिस हिसार पहुंच चुकी है. गोवा पुलिस सोनाली के घर और फार्म हाउस पर जांच के लिए जाएगी. इस टीम में 5 अधिकारी हैं. यह टीम पहले हिसार में साक्ष्य जुटाएगी. इसके बाद दूसरे फार्म हाउस गुरुग्राम जाएगी. गोवा पुलिस की एक टीम कल गोवा से निकली थी. टीम सोनाली के PA सुधीर सांगवान और उसके साथी सुखविंदर के बारे में जानकारियां जुटाने के लिए हिसार पहुंची है. साथ ही मर्डर से संबंधित साक्ष्य भी गोवा पुलिस की टीम जुटाएगी.

सोनाली के हत्याकांड में अब 6 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. इसमें सोनाली फोगाट का पीए सुधीर सांगवान, उसका दोस्त सुखविंदर, कर्लीज क्लब के मालिक एडविन नुनेस, ड्रग पैडलर दत्त प्रसाद गांवकर, ड्रग तस्कर रामा मांड्रेकर और अब शिवम को भी हिरासत में ले लिया है. 

बताया जा रहा है कि शिवम सुधीर सांगवान का बेहद करीबी है. यह हिसार में सोनाली के फॉर्म हाउस में रहता था. सोनाली की मौत के अगले ही दिन सांगवान ने शिवम को फोन करके फॉर्म हाउस से लैपटॉप, डीवीआर और कुछ और जरूरी काम गायब करने के लिए कहा.

शिवम, सोनाली फोगाट के पीए सुधीर सांगवान का बेहद करीबी था और हिसार में सोनाली के फॉर्म हाउस में रहता था. सोनाली की मौत के अगले ही दिन सांगवान ने शिवम को फोन करके फॉर्म हाउस से लैपटॉप, डीवीआर और कुछ और जरूरी काम गायब करने के लिए कहा. यानी शिवम कुछ अहम सुराग लेकर फरार हो गया. अब सवाल यह है कि आखिर लैपटॉप और डीवीआर में ऐसा क्या था, जिसे सांगवान ने सोनाली की मौत के बाद फॉर्म हाउस से हटवाया?

इसका जवाब जानने के लिए शिवम से पूछताछ कर रही है. सोनाली के परिवार का आरोप है कि पूरी प्लानिंग के तहत सोनाली को गोवा ले गया, जबकि परिवार को जानकारी दी गई कि सोनाली चंडीगढ़ जा रही है.