Haryana News

अगर नशा ही करना है तो अच्छी आदतों और अपनी उपलब्धियों का करें: डीसी, साथ ही की पराली न जलाने की अपील

 | 
अगर नशा ही करना है तो अच्छी आदतों और अपनी उपलब्धियों का करें: डीसी, साथ ही की पराली न जलाने की अपील

रतिया-  जिला रैडक्रॉस सोसायटी और जिला प्रशासन द्वारा गांव रत्ताखेड़ा स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में नशा मुक्ति पर जिला स्तरीय जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिला रैडक्रॉस सोसायटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त जगदीश शर्मा ने कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की तथा रैडक्रॉस सोसायटी के राज्य महासचिव डॉ. मुकेश अग्रवाल ने कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि रहे। उपायुक्त ने अपने संबोधन के माध्यम से कार्यक्रम में मौजूद युवा वर्ग से किसी भी प्रकार के अन्य नशीले पदाथों न करने की बजाय अच्छी- अच्छी आदतों व अपनी उपलब्धियों का नशा करने का आह्वान किया। इसके साथ ही उन्होंने युवाओं के साथ-साथ सभी वर्ग के लोगों से जिला में पराली नहीं जलाने की अपील की। उन्होंने कहा कि जिला में पराली जलाने पर अंकुश लगाने के लिए वे जिला प्रशासन का सहयोग करें। कार्यक्रम के दौरान सभी नागरिकों को नशे से दूर रहने की शपथ भी दिलाई गर्ई।

 


कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त श्री शर्मा ने कहा कि नशा इंसान के जीवन को तबाह कर देता है। नशा धीरे-धीरे युवा वर्ग को अपनी गिरफ्त में ले लेता है, लेकिन फिर इस दलदल से बाहर निकलना बड़ा मुश्किल हो जाता है। उन्होंने मानव जीवन भगवान की अनुपम देन है, इसे किसी भी प्रकार के नशे से बर्बाद नहीं होने देना है। उन्होंने कहा कि नशे से न केवल हमारा स्वास्थ्य खराब होता है बल्कि घर की आर्थिक हालत भी माली बन जाती है। उन्होंने कहा कि नशे परिवार को कर्ज में डुबो देता है। जिस घर में नशा होता है, उसका असर उस परिवार के बच्चों पर जरूर पड़ता है। ऐसे में परिवार में किसी भी सदस्या को नशा नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जीवन में अच्छी आदतों व बातों का नशा होना चाहिए।

 कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे रैडक्रॉस सोसायटी के प्रदेश महासचिव डॉ. मुकेश अग्रवाल ने कहा कि भारत की कुल


कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे रैडक्रॉस सोसायटी के प्रदेश महासचिव डॉ. मुकेश अग्रवाल ने कहा कि भारत की कुल आबादी में 50 प्रतिशत युवा हैं,जो कि देश का भविष्य व असली ताकत हैं, लेकिन यदि देश की असली ताकत ही स्वस्थ नहीं होगी तो देश की तरक्की की कल्पना नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि नशा करने वाला व्यक्ति अपने समाज के साथ-साथ अपने परिवार से भी दूरी बना लेता है और अंत में वह मौत के मुंह में चला जाता है। उन्होंने कहा कि 73 प्रतिशत से भी अधिक सडक़ हादसों का कारण शराब पीकर वाहन चलाना है। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में रैडक्रॉस सोसायटी द्वारा जागरूकता कार्यक्रम व सेमीनार आयोजित किए जाते हैं।


कार्यक्रम के दौरान जिला रैडक्रॉस सोसायटी के सचिव सुरेंद्र श्योराण ने जिला में रैडक्रॉस सोसायटी की गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि अगस्त 2021 से अब तक जिला में 11 हजार से भी अधिक युवाओं को प्राथमिक उपचार सहायता के प्रशिक्षण के साथ-साथ अपने गांव, शहर व मौहल्ले व आसपास के क्षेत्रों में लोगों को नशे की लत से बचाव हेतू जागरूक किया गया है। इसी प्रकार 11 महाविद्यालयों सहित पांच स्कूलों में नशामुक्ति सेमिनार का आयोजन किया गया, जिसके माध्यम से 1300 से अधिक विद्यार्थियों को जागरूक किया गया।  नशामुक्ति पर विस्तार से प्रकाश डाला।


स्कूली बच्चों ने अपनी प्रस्तुति से किया नशे पर जोरदार प्रहार
कार्यक्रम के दौरान स्कूली बच्चों व अध्यापकों तथा सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के कलाकारों ने नशा मुक्ति पर विभिन्न कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। स्किट के माध्यम से छात्राओं ने नशे पर जोरदार प्रहार करने के साथ-साथ नशे से दूर रहने का आह्वान किया। कलाकार जग्गी खान ने नशे से दूर रहने पर जोरदार गीत की प्रस्तुति दी। छात्राओं ने मुख्य अतिथि व अन्य मेहमानों के स्वागत में स्वागत गीत पेश किया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने नशे से स्वास्थ्य पर पडऩे वाले कुप्रभाव पर डैमो का प्रदर्शन किया। इसके अलावा कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन भी किया गया।


पौधारोपण कर किया पर्यावरण संरक्षण का आह्वान
कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त जगदीश शर्मा, रतिया के एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह व अन्य अधिकारियों ने स्कूल प्रांगण में पौधारोपण किया। अधिकारियों ने नागरिकों से पर्यावरण का संरक्षण के लिए अधिक से अधिक से पौधारोपण करने की अपील की। उपायुक्त ने नशा मुक्ति पर कार्य करने वाली गांव की कमेटी सदस्य, एनएसएस वालंटीयर, जेआरसी सदस्यों को सम्मानित किया। बास्केटवाल खिलाड़ी श्रेहा ने नशामुक्ति पर कविता की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम की निगरानी एवं मंच संचालन की अहम भूमिका डा नैब सिंह मंडेर द्वारा बाखूबी निभाई गई। इस अवसर पर एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह, बीडीपीओ संदीप भारद्वाज, नायब तहसीलदार राकेश कुमार, जिला खेल अधिकारी सतविंद्र गिल, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजीव कुमार, डॉ. भरत, डॉ. करिश्मा, गुरपीत, मनीष, रतनलाल, संतोष रानी, विपिन कुमार, सीडीपीओ सुमनलता, डिप्टी डी ओ नरवाल साहब ,बी ई ओ शशी प्रकाश,प्राचार्य डॉ. महेंद्र कुमार, विनित दून, बीएल बतरा,पुर्ण चन्द कम्बोज, राजकुमार सलेमगढ़ , विकास भटठू ,कृष्ण कुक्कड़, सुरेंद्र गुप्ता, नीतू  टूटेजा, कुलविंद्र सिंह, रमेश कंबोज, नरेद्र पिलानियां सहित सभी स्कूल स्टाफ सदस्य व गांव के अनेक गणमान्य नागरिक मौजूद।