Haryana News

Haryana: कोचिंग सेंटर की छत पर लगा तिरंगा उतारते हुए युवक की करंट लगने से मौत, पांच बहनों का इकलौता भाई था, 12 फरवरी को तय थी शादी

 | 
Haryana: कोचिंग सेंटर की छत पर लगा तिरंगा उतारते हुए युवक की करंट लगने से मौत, पांच बहनों का इकलौता भाई था, 12 फरवरी को तय थी शादी
करनाल के सेक्टर-चार स्थित आईसीआई कोचिंग सेंटर की छत पर लगा तिरंगा उतारते समय एक युवक की करंट लगने से मौत हो गई। युवक पांच बहनों का इकलौता भाई था। मृतक के माता-पिता भी दिव्यांग है। युवक की मौत की सूचना के बाद घर में मातम पसर गया। 


जानकारी के अनुसार खंड नीलोखेड़ी के गांव बड़सालू निवासी 22 वर्षीय रामकरण उर्फ अमन अपने ताऊ रामफल के पास बसंत विहार करनाल में रहता था और करनाल के ही सेक्टर-चार स्थित आईसीआई कोचिंग सेंटर पर काम करता था। गुरुवार शाम को वह कोचिंग सेंटर की छत पर लगा तिरंगा झंडा उतारने लगा। इसी दौरान उसे बिजली का करंट लग गया। कोचिंग सेंटर के स्टाफ ने उसे ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर मेडिकल कॉलेज के पोस्टमार्टम हाउस में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है।


शादी की खुशियां मातम में बदली
मृतक के ताऊ रामफल ने बताया कि अमन की अगले महीने 12 फरवरी को शादी होनी थी जिसको लेकर घर में खुशी का माहौल था। सभी बहनें अपने भाई की शादी को लेकर काफी दिनों से तैयारी में जुटी थी लेकिन किस्मत को कुछ ओर ही मंजूर था। 26 जनवरी को अमन अपनी बहनों के साथ बाजार में खरीदारी भी करने गया था। जिसके बाद वह शाम को कोचिंग सेंटर की छत पर लगे तिरंगे को उतारने चला गया था। जहां उसे करंट लगा और उसकी मौत हो गई।

माता पिता दिव्यांग, ताऊ ने की परवरिश
अमन के माता-पिता दिव्यांग है। उसके ताऊ रामफल ने ही उसकी परवरिश की है। अमन उनके परिवार का इकलौता बेटा था। अमन की 5 बहनें है। अमन की मौत की खबर सुनने के बाद परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है।
 
गुरुवार देर शाम कोचिंग सेंटर में एक युवक की बिजली के करंट लगने से मौत होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद हम मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लिया। जहां शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया है। - जितेंद्र कुमार, चौकी प्रभारी, सेक्टर-चार, करनाल।