Haryana News

दिल्ली महिला आयोग चेयरपर्सन को डेरे से मिला जवाब, डेरा सच्चा सौदा और डेरा मुखी राम रहीम को बदनाम करने की साजिश

 | 
दिल्ली महिला आयोग चेयरपर्सन को डेरे से मिला जवाब, डेरा सच्चा सौदा और डेरा मुखी राम रहीम को बदनाम करने की साजिश
डेरा सच्चा सौदा मैनेजमेंट ने दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल को जवाब दिया है। डेरे का कहना है कि डेरा मुखी राम रहीम के किसी अनुयायी ने मालीवाल को धमकी नहीं दी है। कुछ लोग डेरा सच्चा सौदा और डेरा मुखी राम रहीम को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं।

डेरा श्रद्धालुओं के किसी को धमकी देने की बात बिल्कुल गलत है। डेरा प्रेमियों ने किसी को कुछ नहीं कहा है। अगर कोई असामाजिक तत्व ऐसा कर रहे हैं तो हम प्रशासन से मांग करते हैं कि ऐसे लोगों की उच्चस्तरीय जांच करवाकर सख़्त से सख़्त कार्रवाई की जाए।

डेरा प्रमुख की छवि खराब करना मकसद डेरा सच्चा सौदा के प्रवक्ता जितेंद्र खुराना का कहना है कि डेरा प्रमुख द्वारा महिला उत्थान के लिए कई कार्य किए है। वह चाहे कन्या भ्रूण हत्या को रोकना हो या फिर दहेज़ प्रथा जैसी बुराइयों को समाज से दूर भगाना हों। डेरे के श्रद्धालु कुछ ऐसा काम करना तो दूर, सोच भी नहीं सकते। यह तो असामाजिक तत्वों द्वारा डेरा व डेरा प्रमुख की छवि को ख़राब करने की साजिशें रची जा रही हैं जिसकी डेरा सच्चा सौदा घोर निंदा करता है।


स्वाति मालीवाल ने शेयर किए थे धमकी भरे मैसेज


दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने कुछ मैसेज शेयर किए थे। जिसमें उन्होंने दावा किया कि राम रहीम की पैरोल का विरोध करने पर उसे डेरा प्रेमियों ने धमकी दी है।

मालीवाल ने कहा कि जब से राम रहीम के खिलाफ आवाज उठाई है, उसके अनुयायी कह रहे हैं बाबा से बचकर रहियो। इसके जवाब में मालीवाल ने कहा - मेरी आवाज सुन लो- मेरी रक्षा भगवान करेंगे, ऐसी धमकियों से मैं नहीं डरती, सच की आवाज उठाती रहूंगी, हिम्मत है तो सामने से आकर गोली मारो।


पैरोल नियमों में बदलाव के लिए PM को लिखा पत्र
दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर पैरोल और क्षमा के नियमों में बदलाव की मांग की है। पत्र में स्वाति ने लिखा कि राम रहीम की पैरोल ने देश की हर निर्भया का हौसला तोड़ा है।

उन्होंने PM को पत्र लिख पैरोल के नियमों में बदलाव करने का आग्रह किया है। साथ ही राम रहीम को वापिस जेल पहुंचाने की मांग की है। मालीवाल ने हरियाणा CM मनोहर लाल खट्‌टर से पैरोल से जुड़े 5 सवाल भी पूछे। उन्होंने आरोप लगाया कि हरियाणा सरकार राम रहीम की भक्ति में लीन है।

ऑनलाइन सत्संग और दिवाली गाने से बढ़ा विवाद
राम रहीम हाल ही में 40 दिन की पैरोल पर रोहतक की सुनारिया जेल से उत्तर प्रदेश के बागपत आश्रम पहुंचा है। वहां से राम रहीम लगातार ऑनलाइन सत्संग कर रहा है। जिसमें हरियाणा में भाजपा सरकार के डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा, करनाल मेयर रेणू बाला और हिसार मेयर गौतम सरदाना की पत्नी ने हिस्सा लिया। इसके बाद हिमाचल में BJP सरकार के परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर भी आशीर्वाद लेने पहुंंचे। राम रहीम ने दिवाली पर नया गाना भी रिलीज किया।

राम रहीम ने दिवाली की रात नया गाना रिलीज किया था। जिसके बाद सियासी बवाल बढ़ता जा रहा है।
हरियाणा में पंचायत और आदमपुर सीट पर चुनाव हो रहे हैं। वहीं हिमाचल में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। ऐसे में विरोधी पार्टियों का आरोप है कि भाजपा ने चुनावी फायदे के लिए राम रहीम को पैरोल दिलाई। हालांकि हरियाणा CM मनोहर लाल खट्‌टर ने इसे नियम के अनुरूप बताया।