Haryana News

527% तक लुढ़के स्टॉक, शेयर बाजार में अडानी ग्रुप की इन कंपनियों का बुरा हाल

 | 
527% तक लुढ़के स्टॉक, शेयर बाजार में अडानी ग्रुप की इन कंपनियों का बुरा हाल

Adani Group Stocks: हिंडबनर्ग रिपोर्ट के सामने आने के बाद अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। बीते कुछ सालों के दौरान शेयर बाजार में अपने प्रदर्शन की वजह से निवेशकों को मालामाल करने वाली अडानी ग्रुप की कंपनियां इस समय लगातार नीचे लुढ़क रही हैं। समूह की एक कंपनी को अपने 52 वीक हाई पर पहुंचने के लिए 527 प्रतिशत की छलांग लगानी होगी। 

किस कंपनी ने कितना गंवाया? 
1- एसीसी सीमेंट 

पिछले साल ही अडानी ग्रुप ने एसीसी को खरीदा था। शुक्रवार को कंपनी के शेयर गिरावट के बाद 1727 रुपये के लेवल पर बंद हुए थे। कंपनी अपने 52 वीक हाई से 61 प्रतिशत नीचे आकर ट्रेड कर रहे हैं। बता दें, एसीसी का 52 वीक हाई 2784 रुपये प्रति शेयर है। 

2- अडानी एंटरप्राइजेज 
शेयर बाजार में अडानी ग्रुप की ये कंपनी पिछले कुछ समय से निवेशकों का भरोसा जीतने में असफल साबित हो रही है। यही वजह है कि कंपनी अपने 52 वीक हाई 4189 रुपये के लेवल से 1314 रुपये के लेवल पर आ गया है। कंपनी अबतक 218 प्रतिशत गंवाया है।

3- अडानी ग्रीन 
अडानी ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों में सबसे बुरा हाल अडानी ग्रीन एनर्जी का ही है। कंपनी के शेयरों का  भाव 52 वीक हाई से 527 प्रतिशत नीचे आ गया है। बता दें, अडानी ग्रीन एनर्जी का 52 वीक हाई 3048 रुपये प्रति शेयर है। और मौजूदा मार्केट प्राइस 486 रुपये है। 

4- अडानी पोर्ट्स 
अपने 52 वीक हाई की तुलना में अडानी पोर्ट्स के शेयरों ने अबतक 77 प्रतिशत गंवा दिया है। कंपनी के 52 हफ्ते का उच्चतम स्तर 987 रुपये प्रति शेयर है। वहीं, अडानी पोर्ट्स का मौजूदा शेयर प्राइस 558 रुपये है। 

5- अडानी पावर 
अडानी पावर के शेयरों के भाव 150 रुपये के नीचे आ गया है। कंपनी अपने 52 वीक हाई 5432.80 रुपये के लेवल से लुढ़कर 146 रुपये के लेवल पर आ गया है। 

6- अडानी टोटल गैस 
हिंडनबर्ग की रिपोर्ट ने जिन अडानी ग्रुप की कंपनियों को शेयर बाजार में सबसे अधिक चोट पहुंचाई है उसमें अडानी टोटल गैस भी शामिल है। कंपनी के 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर 3998 रुपये प्रति शेयर है। और अब ये गिरकर 753 रुपये के लेवल पर आ गया है। यानी तब से अबतक कंपनी के शेयरों का भाव 431 प्रतिशत तक गिरा है। 

7- अडानी ट्रांसमिशन 
अडानी ट्रांसमिशन के शेयर 52 वीक हाई से 496 प्रतिशत नीचे आ चुके हैं। कंपनी का मौजूदा शेयर प्राइस 711 रुपये है। जबकि 52 हफ्ते का उच्चतम स्तर 4238 रुपये है।

 

अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों को फिर से अपने 52 वीक हाई के करीब पहुंचने के लिए तेज छलांग लगानी होगी। वैश्विक परिस्थितियों और महंगाई के बीच फिर से अडानी ग्रुप की कंपनियों के लिए खोई साख वापस पाना आसान नहीं होगा।