Haryana News

Shark Tank विवाद पर अश्नीर की सफाई, 11 डील में ₹2.95 करोड़ का लगाया दांव, नमिता सबसे आगे

 | 
Shark Tank विवाद पर अश्नीर की सफाई, 11 डील में ₹2.95 करोड़ का लगाया दांव, नमिता सबसे आगे

बीते कुछ दिनों से रियलिटी शो- शार्क टैंक इंडिया के निवेशकों पर फंड रिलीज में देरी को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। अब इस मामले में शार्क टैंक इंडिया सीजन-1 के जज अश्नीर ग्रोवर ने सफाई दी है। फिनटेक फर्म भारतपे के पूर्व को-फाउंडर अश्नीर ग्रोवर ने बताया कि पहले सीजन में उन्होंने 11 डील को क्रैक किया और इसमें ₹2.95 करोड़ का निवेश कर चुके हैं। अश्नीर के मुताबिक वह शार्क टैंक सीजन-1 के दूसरे ऐसे जज हैं जिन्होंने अपना कमिटमेंट पूरा किया है। शार्क टैंक के पहले सीजन में वादे निभाने में महिला कारोबारी नमिता थापर सबसे आगे हैं। 

अमन गुप्ता ने भी दी प्रतिक्रिया: इससे पहले टेक कंपनी बोट के फाउंडर अमन गुप्ता ने विवाद पर बयान दिया था। अमन गुप्ता ने कहा था कि अगर किसी को लगता है कि पैसा बेहद आसानी से मिल जाता है, अमीर उद्योगपति चेक पर हस्ताक्षर कर रहे हैं, तो यह एक गलतफहमी थी जिसे दूर कर दिया गया है। 

उन्होंने कहा कि शार्क यानी रिएलटी शो के जज बड़ी मेहनत से पैसे कमाते हैं और फंड रिलीज के लिए एक उचित प्रक्रिया का पालन किया जाता है। गुप्ता के मुताबिक हमने बड़ी मेहनत से अपना पैसा कमाया है और हम उसे बिना किसी कड़ी मेहनत के ऐसे ही नहीं दे देंगे। उन्होंने बोट का उदाहरण देते हुए बताया कि हमारी पूंजी जुटाने की प्रक्रिया 2016 में शुरू हुई, लेकिन फंड 2018 में मिला।