Haryana News

सरकार ने ई-सिगरेट बेचने पर लिया एक्शन, विज्ञापन-बिक्री पर लगाई रोक, 15 वेबसाइट को नोटिस

 | 
सरकार ने ई-सिगरेट बेचने पर लिया एक्शन, विज्ञापन-बिक्री पर लगाई रोक, 15 वेबसाइट को नोटिस
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत में प्रतिबंधित ई-सिगरेट बेचने वाली 15 वेबसाइटों को नोटिस भेजा है। इस नोटिस में उत्पादों का विज्ञापन और बिक्री बंद करने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा छह और वेबसाइटें भी रडार पर हैं। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्रालय सोशल मीडिया पर ई-सिगरेट के विज्ञापन और बिक्री पर भी बारीकी से नजर रख रहा है और जल्द ही उन्हें नोटिस जारी कर सकता है। 


सूत्र ने बताया कि जिन 15 वेबसाइटों को हटाने का नोटिस जारी किया गया है, उनमें से चार ने त्वरित बंद कर दिया है, जबकि बाकी ने अभी तक जवाब नहीं दिया है। सूत्र के मुताबिक अगर जवाब नहीं दिया जाता है और कानून का पालन नहीं किया जाता है तो स्वास्थ्य मंत्रालय इन वेबसाइटों को हटाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को लिखेगा। इन वेबसाइटों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

2019 में आया था प्रभाव में: बता दें कि वर्ष 2019 में इलेक्ट्रानिक सिगरेट निषेध (उत्पादन, निर्माण, निर्यात, आयात, आवाजाही, बिक्री, वितरण, भंडारण और विज्ञापन’) अधिनियम प्रभाव में आया था। इन वेबसाइटों को भेजे गए स्वास्थ्य मंत्रालय के नोटिस में कहा गया है- हमने पाया है कि ई सिगरेट की अवैध बिक्री और ऑनलाइन विज्ञापन से जुड़ी सूचनाएं आपके प्लेटफार्म पर प्रदर्शित, प्रकाशित, प्रसारित एवं साझा की जा रही हैं जो इलेक्ट्रानिक सिगरेट निषेध अधिनियम की धारा 4 के तहत गैरकानूनी है। 

इसमें कहा गया है कि इसके आलोक में सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 की धारा 79 (3) (बी) और 15 नवंबर 2021 की सरकारी अधिसूचना के तहत आपको निर्देश दिया जाता है कि इन तक पहुंच को समाप्त करके और साक्ष्य को किसी प्रकार से नुकसान पहुंचाये बिना चिन्हित जानकारी को हटाएं।